Sunday , September 25 2022

कड़ाई: एक अक्तूबर से बिल पर व्यापारियों को लिखना होगा फूड लाइसेंस नंबर

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । सेहत से समझौता अब नहीं होगा। होटल, रेस्टोरेंट, दुकानों, होलसेल या अन्य जहां से भी खाद्य सामग्री पैक्ड या खुली हुई लेते हैं, होटल में खाना खाते हैं तो बिल देते समय अब प्रतिष्ठान का लाइसेंस और पंजीकरण नंबर डालना अनिवार्य किया गया है। अभी तक कई प्रतिष्ठानों पर कच्चे बिल या ऐसे बिल बनाने की शिकायतें ‘फूड सेफ्टी स्टैंडर्ड अथॉर्टी ऑफ इंडिया’ तक पहुंची हैं, जिनमें ये नंबर नहीं होते। इस कारण शिकायत के बाद कई मामलों में उपभोक्ता को लाभ नहीं मिल पाता। इस समस्या को देखते हुए एफएसएसएआई ने बिल देते समय लाइसेंस और पंजीकरण नंबर डालना अनिवार्य किया है। ये नियम होटलों, रेस्टोरेंट सहित खाद्य व्यापारियों, निर्माता, डिस्ट्रीब्यूटर, होलसेलर, रिटेलर पर भी लागू होगा। 1 अक्टूबर 2021 से ये नियम जिले में लागू होगा।

इस संबंध में जिला अभिहित अधिकारी सुशील कुमार सिंह ने बताया कि “फूड लाइसेंस नंबर एक अक्तूबर से अनिवार्य हो रहा है, व्यापारी अपनी बिल बुक पर FSSAI का लाइसेंस और पंजीकरण नंबर डालना अनिवार्य हो गया है। जिसका कड़ाई से अनुपालन कराया जाएगा। जिन व्यापारियों के पास लाइसेंस नहीं हैं, वे समय रहते इसे ले लें, बिल पर नंबर अनिवार्य, वर्ना खाद्य सुरक्षा एवम मानक अधिनियम 2006 के प्रावधानों के अनुसार कार्यवाही की जाएगी।”

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com