Friday , September 23 2022

झोलाछाप डॉक्टर के इलाज से मरीज की हालत बिगड़ी, डॉक्टर फरार

गौरव पाण्डेय (संवाददाता)

फरीदपुर । फरीदपुर कस्बे के मोहल्ला परा का मामला अभी ठंडा नहीं हुआ कि भुता क्षेत्र में एक झोलाछाप डॉक्टर के इंजेक्शन से मजदूर की हालत बिगड़ गई । झोलाछाप डॉक्टर के इंजेक्शन से मजदूर की हालत बिगड़ने पर परिजनों ने जमकर हंगामा काटा और उसे इलाज कराने के लिए दूसरी अस्पताल लेकर गए मगर आर्थिक तंगी के चलते इलाज में खर्चा अधिक होने के कारण उसे अपने घर वापस ले गए जहां मजदूर अपनी जिंदगी मौत से जूझ रहा है। उधर झोलाछाप डॉक्टर क्लीनिक में ताला डालकर फरार हो गया। मृतक के परिजनों ने थाना पुलिस और मुख्यमंत्री पोर्टल पर घटना के बाबत शिकायत की है!
बतादें कि स्वास्थ्य विभाग की अनदेखी के चलते इलाके में झोलाछाप डॉक्टरों के हौसले बुलंद हैं । मरीजों को कब कहर बनकर टूटे किसी को भनक नहीं। मामला थाना भुता के गांव मिर्जापुर निवासी अली हसन का 18 वर्षीय बेटा अफरोज को 31 अगस्त को बुखार आया अली हसन मेहनत मजदूरी करके परिवार का पालन पोषण करता है । बुखार के दौरान उसने गांव में क्लीनिक चला रहे झोलाछाप डॉक्टर को दिखाया । झोलाछाप डॉक्टर ने मजदूर के बेटे को इंजेक्शन लगाया, इंजेक्शन लगते ही वह तड़प कर जमीन पर गिरते ही बेहोश हो गया । बेटे को जमीन पर तड़पता देख परिजनों में कोहराम मच गया। उसकी हालत देख झोलाछाप मौके से फरार हो गया । मजदूर ने बेटे को निजी अस्पताल में दिखाया लेकिन डॉक्टरों ने हाथ खड़े कर दिए । पैसे के अभाव के चलते मजदूर का बेटा झोलाछाप की लापरवाही से घर पर जिंदगी मौत से जूझ रहा है । पीड़ित ने झोलाछाप के खिलाफ थाना पुलिस को तहरीर दी लेकिन पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की । कार्यवाही ना होते देख पीड़ित ने जिले के आला अधिकारियों के अलावा सीएम योगी से न्याय की गुहार लगाई है।

[psac_post_slider show_date="false" show_author="false" show_comments="false" show_category="false" sliderheight="400" limit="5" category="124"]

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com