मुम्बई में रेप पीड़िता की इलाज के दौरान मौत

मुंबई के साकीनाका में निर्भया की तरह रेप पीड़िता की इलाज के दौरान मौत हो गई । 24 घंटे से अधिक समय तक वह तड़पती रही । बताया जा रहा है कि बहुत अधिक रक्तत्राव के कारण उसकी मौत हो गई । आरोपी ने टेंपो के अंदर 34 वर्षीय महिला के साथ बलात्कार किया गया था । आरोपी ने उसके प्राईवेट पार्ट पर रॉड से हमला भी किया था । जिसके कारण वह लहूलुहान हो गई। एक अधिकारी ने बताया कि घटना के कुछ ही घंटों के भीतर आरोपी मोहन चौहान (45) को गिरफ्तार कर लिया गया था ।

वारदात का फुटेज भी सामने आया है। इसमें देखा जा सकता है कि आरोपी मोहित चौहान (45) ने महिला के साथ रेप के बाद बुरी तरह से मारपीट की ।उसने लोहे की रॉड से भी हमला किया । इसके बाद उसने महिला के प्राइवेट पार्ट में कई बार लोहे की रॉड डाली। इस घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी ने महिला को टैंपो में डाला और भाग गया । 15 मिनट बाद वहां से गुजरने वाले किसी शख्स ने महिला को खून से लथपथ बेहोशी की स्थिति में देखा । इसके बाद उसने मुंबई पुलिस को फोन किया। पुलिस का कहना है कि सीसीटीवी फुटेज आरोपी के खिलाफ काफी अहम सबूत हैं।

अधिकारी ने बताया कि महिला का पता लगाने के लिए पुलिस टीम मौके पर पहुंची। खून से लथपथ महिला को नगर निगम संचालित राजावाड़ी अस्पताल ले जाया गया । शुरुआती जांच में पता चला कि महिला के साथ बलात्कार किया गया और उसके निजी अंगों में लोहे की छड़ से हमला किया गया ।

उन्होंने बताया कि यह घटना सड़क किनारे खड़े एक टेंपो के अंदर हुई । अधिकारी ने बताया कि वाहन के अंदर भी खून के धब्बे मिले हैं । डॉक्टरों के मुताबिक महिला की हालत भर्ती कराने के वक्त ही गंभीर थी । उन्होंने बताया कि कुछ सुरागों के आधार पर कार्रवाई करते हुए आरोपी चौहान को भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 307 (हत्या का प्रयास) और 376 (बलात्कार) के तहत गिरफ्तार किया गया और आगे की जांच जारी है ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!