Saturday , October 1 2022

चौंकिए मत यह बिहार नहीं, सोनभद्र है जनाब

मुकेश अग्रवाल (संवाददाता)

बीजपुर । बसों के छत पर सफर कर रहे लोगों की यह तस्वीर बिहार की नहीं बल्कि अपने जनपद सोनभद्र की है । अभी कुछ दिनों पूर्व ऑटो की छत पर बैठे लोगों की तस्वीर शाहगंज क्षेत्र से वायरल हुई थी । लेकिन सोनभद्र ट्रैफिक व्यवस्था में टॉप पर चल रहा है। कुछ दिनों पूर्व विंध्याचल मण्डल के डीआईजी ने सोनभद्र दौरा कर ट्रैफिक व्यवस्था पर चर्चा की थी और कहा था कि मंडलीय सभी की एक बैठक बुलाई गई है । बैठक तो हो गयी लेकिन बैठक के बाद नतीजा सामने है ।

दलसल यह तस्वीर रेनुकूट बीजपुर मार्ग पर चल रही डग्गामार बसों की है। ऐसी तस्वीर आपको हर दिन देखने को मिल जाएंगी, जब छत पर सवार होकर डीएवी और केंद्रीय विद्यालय के बच्चे स्कूल जाते हैं। यह कारनामा कितना खतरनाक हो सकता है इसका अंदाजा शायद ये बच्चे न लगा पा रहे हों मगर जिम्मेदार लोगों ने भी अपनी आंखें बंद कर ली है यह बड़ा सवाल है ।

बसों के अंदर की सीट पर भूसे की तरह ठूंस ठूंस कर मजदूर बैठाए जाते हैं । जब जगह का अभाव होता है और समय से स्कूल भी पहुंचना होता है तो ऐसे में मजबूरी में बसों की छत पर बैठकर यात्रा करना लोगों की दिनचर्या हो गयी है।

बताया जाता है कि परियोजना में काम पर श्रमिकों के पहुँचने और स्कूल में बच्चों के पहुँचने का समय लगभग एक है इसी लिए बसों में भीड़ के कारण मजदूर अंदर तो बच्चे छत पर सफर करने के लिए मजबूर हैं। डग्गामार बसों से सफर यह कितना सही और कितना गलत है इसका निर्धारण तो आरटीओ प्रशासन करेगा । लेकिन बड़ा सवाल यह है कि यदि कोई अप्रिय घटना घटती है तो जिम्मेदार कौन होगा। क्योंकि यह बसें बीजपुर थाना क्षेत्र से होकर चलती है और कई थाना क्षेत्रों से होकर गुजरती हैं ।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com