Sunday , September 25 2022

दूषित पानी से ही नगरवासी बुझा रहें अपनी प्यास

अरविंद चौबे (संवाददाता)

मारकुंडी। केंद्र व राज्य सरकार द्वारा जहां एक ओर आम आवाम को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए शहरी ही नही ग्रामीण क्षेत्रो में भी हर घर नल जल योजना का ताना बाना बुना जा रहा तो इस योजना पर करोड़ो रूपये खर्च भी किये जा रहें जिससे आम जनमानस को इसका कायदा से फायदा मिल सके पर जनपद सोनभद्र के नगर पंचायत चुर्क स्थित घुर्मा के वार्ड नं 9 में पेयजल हेतु बनी एक टँकी जिसके जो विगत चार वर्षों से खस्ताहाल में हो गई थी जिसके कारण उसके आस पास के लोगों को दूषित पानी पीने के अतिरिक्त कोई अन्य विकल्प नही था जिसकी शिकायत। और सूचना के बाद उसके मरम्मत हेतु टेंडर नगर पंचायत से पास कर दिया गया पर बात इससे आगे बढ़ न सकी और यही लटक गई कारण की सम्बंधित ठेकेदार व सभासद में ठन गई ।

आपको बता दे कि विगत दो माह पूर्व ही इस कार्य के लिए टेंडर पास हुआ था नगर पंचायत चुर्क/ घुर्मा द्वारा
उक्त टँकी के मरम्मत कार्य का ठेका मेंo मुंडेस्वरी कंट्रक्शन को मिला साथ ही इसी फर्म को एक नाली निर्माण का कार्य भी मिला था जिसके निर्माण में मानक को लेकर स्थानीय सभासद और सम्बंधित फर्म के पार्टनर शरद सिंह में ठन गई सभासद द्वारा ठेकेदार पर मानक के विपरीत कार्य कराने को लेकर शिकायत की गई जिससे विकास कार्य ठप हो गया तो ठेकेदार द्वारा सभासद पर धन उगाही का आरोप लगाते हुए बताया गया कि उक्त सभासद ऐसे कार्यो में धन की मांग करते हैं जिसे नही देने पर इस प्रकार की शिकायत कर विकास कार्य रुकवा देते हैं इतना ही नही ठेकेदार ने हमसे खास बात चीत करते हुए सभासद पर गम्भीर आरोप लगाया कि अगर हमारी बातों से असंतुष्टि हो तो सभासद का बैंक खाता चेक किया जाए जिसमें की पद मिलने के बाद इनके आय में अचानक बृद्धि हुई है आखिर यह धन कहा से आया
साथ ही ठेकेदार द्वारा चुर्क नगर पंचायत अधिशाषी अधिकारी को पत्र लिखकर सभासद मुताबित इस कार्य का मानक पूछते हुए कार्य को न करने की असमर्थता भी जताई गई है बताया गया कि हमारे द्वारा कार्य पूर्ण रूप से मानक के मुताबिक कराया जा रहा अब बड़ा सवाल यह आता है कि आखिर इसमें आवाम कहा दोषी है जिसकी सजा उसे मिल रही क्यो की विगत चार वर्ष से इस समस्या से जूझ रही जनता की आस अब भी अधर में लटक गई
इस सम्बंध में नगर पंचायत अध्यक्ष गीता ‌देवी ने बताया कि ठिकेदार के लेटर से नगर पंचायत ही हंसी का पात्र हो गया है।अब तो जनहित को देखते हुए कार्य तो उन्हीं से कराना है।इस सम्बन्ध में उपर के अधिकारियों से भी शिकायत किया जायेगा।

[psac_post_slider show_date="false" show_author="false" show_comments="false" show_category="false" sliderheight="400" limit="5" category="124"]

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com