Tuesday , September 27 2022

नोडल अधिकारी एवं जिलाधिकारी पहुंचे जनचौपाल में, सुनी ग्रामीणों की समस्याएं

विवेक मिश्रा (संवाददाता)

शाहगंज। योगी सरकार द्वारा चलाए जा रहे सरकारी कार्यक्रमों की समीक्षा करने निकले जनपद के नोडल अधिकारी मोहम्मद मुस्तफा के साथ जिलाधिकारी अभिषेक सिंह घोरावल ब्लाक स्थित मराची गांव में रविवार को जन चौपाल में पहुंचे।इस दौरान जन चौपाल कार्यक्रम के अंतर्गत मराची गांव के पंचायत भवन पर जनपद स्तरीय अधिकारियों का काफिला पहले से ही मौजूद रहा।
जन चौपाल कार्यक्रम में नोडल अधिकारी मोहम्मद मुस्तफा ने विकास की योजनाओं से संबंधित स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, बाल विकास पुष्टाहार विभाग, खाद एवं रसद विभाग राजस्व विभाग क्षेत्र पंचायत, समाज कल्याण विभाग निम्न योजनाओं से संबंधित क्रमवार परियोजना निदेशक द्वारा लाभार्थियों के नामों को पढ़कर सुनाया गया, जिसने लीलावती नाम की महिला ने तथा ग्राम पंचायत खैरा के शौचालय घोटाले से संबंधित विभाग द्वारा की जा रही हीला हवाली के संदर्भ में राकेश मौर्या द्वारा नोडल अधिकारी को अवगत कराया गया।जिस पर मोहम्मद मुस्तफा ने डीपीआरओ विशाल सिंह को निर्देशित करते हुए कहा उक्त शौचालय घोटाले की जांच पर यथाशीघ्र निर्णय लें
जिलाधिकारी अभिषेक सिंह द्वारा ग्रामीणों को संक्रामक बीमारी से बचने के महत्वपूर्ण उपाय बताया गया।जन चौपाल के कार्यक्रम में जब जिलाधिकारी द्वारा कोविड-19 के वैक्सीनेशन पर उपस्थित ग्रामीणों एवं संबंधित अधिकारियों कर्मचारियों से यह कहते हुए हाथ उठाया गया कि आप सभी लोगों का टीकाकरण हो गया है जिस पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नेम सिंह ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि 6 सितंबर को जनपद के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर मेगा कैंप के माध्यम से कुल 40000 लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। जो भी टीकाकरण से अब तक वंचित लोग हैं अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्रों पर जाकर कोविड-19 का टीका जरूर लगवाएं उस गांव की एक महिला ने सरकारी हैंड पंप दबंगों का कब्जा बताया और कहा कि पानी लेने से मना किया जाता है।जबकि महिला ने डायल 112 पर भी इस बात की शिकायत की थी जिस पर जिलाधिकारी द्वारा तत्काल शाहगंज चौकी प्रभारी दिग्विजय सिंह को निर्देशित किया गया।
जन चौपाल कार्यक्रम में नोडल अधिकारी मोहम्मद मुस्तफा के साथ जिलाधिकारी अभिषेक सिंह मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नेम सिंह बेसिक शिक्षा अधिकारी हरिवंश कुमार डीपीआरओ विशाल सिंह डीपीओ अजीत सिंह जिला पूर्ति अधिकारी गौरी शंकर शुक्ला, स्वच्छ भारत मिशन के जिला प्रोग्राम अधिकारी अनिल केसरी, एडीपीआरओ राजेश सिंह उप जिला अधिकारी घोरावल एस के यादव, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक मुन्ना प्रसाद ,खंड शिक्षा अधिकारी अशोक कुमार सिंह पूर्ति अधिकारी अभिषेक सुमन ग्राम पंचायत विकास अधिकारी हेमंत शुक्ला ऋषि सोनकर ,जितेंद्र मौर्य क्षेत्रीय लेखपाल अजय विक्रम सिंह समेत दर्जनों की संख्या में पुरुष और महिलाएं उपस्थित रहे। इसके बाद नोडल अधिकारी का काफिला कस्तूरबा गांधी विद्यालय की ओर रवाना हो गया।

जन चौपाल के दौरान ग्राम पंचायत खैरा में हुए शौचालय घोटाले संबंधित प्रार्थना पत्र लेकर खैरा गांव के ही आरटीआई कार्यकर्ता राकेश मौर्या अचानक से जन चौपाल मैं पहुंच गए। और जन चौपाल में आए नोडल अधिकारी मोहम्मद मुस्तफा को ग्राम पंचायत में हुए शौचालय घोटाले के जांच रिपोर्ट सौंप दी और कहा कि ग्राम पंचायत में दर्जनों शौचालयों में घोटाले के बावजूद दोषियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं हुई।इसका संज्ञान लेते हुए नोडल अधिकारी ने घोटाले से संबंधित रिपोर्ट अपने पास रख ली और विभागीय अधिकारियों को निर्देशित भी किया। बता दें कि घोरावल ब्लाक के अधिकतर ग्राम पंचायतों में शौचालय घोटाले का मामला प्रकाश में आया है।


वही गांव के ग्रामीणों ने कहा कि काश जनपद के आला अधिकारियों का काफिला प्रतिदिन ब्लॉक के गांव की गलियों से होकर गुजरता तो ब्लॉक से लापता हो चुके सफाई कर्मी भी अपने काम को बखूबी अंजाम देते रहते।जनपद में नोडल अधिकारी के जनचौपाल लगने की सूचना मिलते ही। घोरावल ब्लाक के घोरावल ब्लाक के ओडहथा से मराची मार्ग की सफाई के लिए एक सौ चालीस सफाई कर्मचारी को सफाई के लिए लगाया गया था। जिसकी मानीटरिग जनपद के आलाधिकारी कर रहे थे। सफाई कर्मचारियों का ऐसा काफिला देखकर ग्रामीण भी चुटकी लेने से पीछे नहीं रहे। और कह बैठे काश जनपद के आलाधिकारियों का काफिला प्रतिदिन गांव में आता तो गांव चकाचक साफ रहता।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com