Monday , October 3 2022

बंद खदान में मौत और उठा सवाल, नियमों को ताख पर रखकर कराया जा रहा है कार्य

संजय केसरी/अर्जुन मौर्या (संवाददाता)

– खनन नियमावली के अनुसार बन्द खादान में चारों तरफ से होनी चाहिये बैरिकेटिंग

– बन्द पड़े खादान में मिट्टी पाटने के बाद पौधरोपण कराने का है नियम

– बिना आदेश व सेफ्टी मानकों के मजदूरों की जिंदगी के साथ किया जा रहा खिलवाड़

फाइल फोटो

डाला। स्थानीय चौकी क्षेत्र के बिल्ली मारकुंडी खनन क्षेत्र के बाड़ी स्थित बंद पड़ा पानी से भरा एक खदान में एक मजदूर के शव मिलने से खनन क्षेत्र में हड़कंप मच गया, और लोगों में मानक को लेकर चर्चा का विषय बना हुआ है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बंद पड़ा पानी से भरा एक खदान में एक मजदूर पानी निकालने के लिए मोटर लगाने गया था और मजदूर की गहरे पानी में डूबने से मौत हो गई।
स्थानीय पुलिस चौकी क्षेत्र के अंतर्गत बाड़ी में मंगलवार की सांयकाल वर्षो से बंद पड़ा व पानी से भरे खदान में पानी निकालने वाला टूल्स लगाने गया मजदूर बेचू गोंड उम्र 23वर्ष पुत्र रामसूरत गौड़ निवासी कनछ जो गहरे पानी में गिर जाने के कारण डूब गया। लोगों को जानकारी होने पर मौके पर पहुंच कर लोग पता लगाने का प्रयास करने लगे लेकिन कही पता नहीं चला और घटना की सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच कर गोताखोरों के द्वारा से घंटो मशक्कत के बाद शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया गया।

आपको बतादूँ की इस समय डाला स्थित सभी खदाने मानक को ताख पर रख कर कार्य कर रहे हैं जिसका खामियाजा मजदूरों को जान गवा कर देनी पड़ रही हैं। क्योंकि खनन नियमावली के अनुसार बंद पड़े खादान के चारों तरफ से बैरिकेटिंग होनी चाहिए जो डाला स्थित खदानों में कही देखने को नही मिलती हैं और वर्षो से बन्द पड़े खादान में मिट्टी पाटने के बाद पौधों को लगाने है जिससे पर्यावण को संतुलित किया जा सके। ऐसी स्थिति में बन्द पड़े खादान में कैसे बिना सेफ्टी के मजदूर काम करने गया यह आपने आप में बड़ा सवाल है। लेकिन सभी नियमों को ताख पर रख कर काम किया व कराया जा रहा है।

अगर सेफ्टी व मानक का खदानों में ध्यान रखा जाता तो शायद इस मजदूर की जान नही गई होती । कही न कही विभाग व खनन करवाने वाले काम कर रहे मजदूरों के जान के साथ खेलवाड़ कर रहे हैं ।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com