Saturday , October 1 2022

अब खुले में शौच करने वालों को नहीं मिलेगा, राशन, आवास व पेंशन

संजीव कुमार पांडेय (संवाददाता)

राजगढ़ । सरकार की महत्वाकांक्षी योजना स्वच्छ भारत मिशन को असफल बनाने वालों की अब खैर नहीं है। ग्राम प्रधानों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि ऐसे व्यक्तियों को चिन्हित कर उनको मिलने वाली सरकारी राशन, पेंशन तथा आवास आदि को बंद कर दिया जाएगा। जब तक खुले में शौच करने वाले व्यक्ति शौचालय का प्रयोग न करने लगें तब तक उन्हें कोई सुविधा नहीं मिलेगी।
राजगढ़ ब्लाक के देवपुरा न्याय पंचायत के भावां बाजार से कलवारी बाजार को एक रोड देवपुरा रामपुर और खुटारी होते हुए कलवारी बाजार को जाती है। इसके दोनों तरफ इन चार ग्रामों के लोग खुले में शौच करते हैं। नए ग्राम प्रधानों ने इस समस्या को रोकने के लिए कई प्रयास किए, लेकिन सफल नहीं हो पाए। देवपुरा के ग्राम प्रधान पंकज पटेल एवं खुटारी की फुल कुमारी और रामपुर 33 की ज्योति देवी ने कहा कि गांव को स्वच्छता के साथ बीमारियों को दूर रखने के लिए ग्राम के सभी लोगों से संपर्क एवं अपील किया जा रहा है कि कोई भी व्यक्ति खुले में शौच ना करें। इससे ग्राम की बदनामी हो रही है। इसके बाद ग्राम को स्वच्छ बनाए रखने के लिए कड़े कदम उठाने पड़ेंगे। गांव की भलाई के लिए खुले में शौच करने वालों को राशन, आवास एवं पेंशन नहीं मिलेगा। वही नीलम कुमारी, राधिका देवी, पूनम, अवंतिका, सर्वेश कुमार, अनुराग सिंह आदि छात्र-छात्राओं ने कहा कि इस रोड से आने जाने में काफी परेशानी होती है। लज्जा से हम लोगों के सिर झुक जाते हैं, नाक को बंद करके आना जाना पड़त

पंकज वर्मा, एडीओ पंचायत राजगढ़ ने बताया कि लोगों को स्वच्छता अभियान एवं उसके उद्देश्यों के बारे में कई बार बताया गया। जागरूक करने के लिए नुक्कड़ नाटक, गीत, रैलियां एवं कलश तथा मशाल यात्रा निकाली गई फिर भी नहीं समझ पाए। स्वच्छता अभियान से जुड़ने के लिए ग्राम प्रधान ग्रामीणों को मिलने वाली सरकारी योजनाओं को रोक सकते है, यह उनका अधिकार है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com