Saturday , October 1 2022

राष्ट्रीय खेल दिवस को समाजवादी पार्टी ने मनाया खिलाड़ी घेरा कार्यक्रम के रूप में

अंशु खत्री/दिलीप श्रीवास्तव (संवाददाता)

चुर्क । आज पूरा देश मेजर ध्यानचंद की जयंती पर इसे “राष्ट्रीय खेल दिवस” के रूप में मना रहा है लेकिन यूपी में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के आह्वान पर सोनभद्र में समाजवादी पार्टी ने इसे खिलाड़ी घेरा कार्यक्रम के रूप में मनाया । पार्टी के जिलाध्यक्ष विजय यादव की अगुवाई में खिलाड़ी घेरा कार्यक्रम चुर्क के जय ज्योति इंटर कॉलेज के प्रांगण में मनाया गया ।

समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष विजय यादव ने बताया कि मेजर ध्यानचंद जीकी जयंती पर उनको समर्पित “राष्ट्रीय खेल दिवस” के अवसर पर समाजवादी पार्टी जनपद सोनभद्र के रावर्ट्सगंज में सपा जिलाध्यक्ष विजय यादव के नेतृत्व में चुर्क के जय ज्योति इंटर कालेज के मैदान में कार्यक्रम के रूप में आयोजित किया गया। खिलाड़ी घेरा कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए सपा जिलाध्यक्ष विजय यादव ने कहा कि जबसे देश एवं प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी है तब से खिलाड़ियों के साथ अन्याय किया जा रहा है। स्थानीय स्तर पर खिलाड़ियों की प्रतिभा के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। खिलाड़ियों की चयन प्रक्रियों में अपारदर्शिता व पक्षपात किया जा रहा है। स्पोर्र्स एकेडमियों की सीमित संख्या व अनुपलब्धता, खिलाड़ियों के लिए खेल व अभ्यास उपकरणों की कमी, खिलाड़ियों को संतुलित पोषणात्मक आहार की कमी, स्थानीय क्षेत्रीय व राष्ट्रीय स्तर पर
प्रतियोगिताओं की अनियमितता, स्थानीय स्तर पर स्स्टेडियम की कमी व रखरखाव की समस्याएँ, खिलाड़ियों पर मानसिक दबाव व मनोवैज्ञानिक प्रोत्साहन की कमी, खिलाड़ियों के समुचित शारीरिक विश्राम की कमी है। खिलाड़ी घेरा कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जिला महासचिव सईद कुरैशी ने कहां कि भाजपा सरकार में खिलाड़ियों के मानदेय में भेदभाव, सामाजिक सुरक्षा की उपेक्षा व स्वास्थ्य बीमा में धाधली, खिलाड़ियों के साथ लैगिक भेदभाव व अनुचित व्यवहार, खिलाड़ियों पर प्रशासन-प्रबंधन का दबाव, खिलाड़ियों के आवागमन, उनके उपकरणों की सुरक्षित परिवहन तथा रहने-खाने की व्यवस्था की कमियां, अंतराष्ट्रीय मानकों के क्रिड़ा- प्रांगणो प्रशिक्षको व सुविधाओं की कमी, लोकप्रिय खेलों के आगे अन्य खेलों की उपेक्षा-प्रशिक्षकों को कम वेतन,मानदेय व दुसाध्य कार्यदाशएं, पैरा-खिलाड़ियों के साथ विभिन्न प्रकार के भेदभाव आर्थिक पारितोषिक व वेतन की अनियमितता, वृद्ध खिलाड़ियों व प्रशिक्षकों की दीन-हीन अवस्था व पेंशन की समस्या, खिलाड़ियों पर खेल-संगठनों का अनुचित दबाव, खिलाड़ियों पर राजनीतिक दबाव व राजनीतिक शोषण, विभिन्न खेल पुरस्कारों की चयन प्रक्रिया में राजनीतिक हस्तक्षेप, विजेता खिलाड़ियों के प्रोत्साहन से अधिक “राजनेताओं के प्रचार” की समस्या इस भाजपा सरकार में हो रही है।खिलाड़ी घेरा कार्यकम को सम्बोधित करते हुए रामप्यारे सिंह पटेल ने कहां कि जब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव थे तो खिलाड़ियों को सारी व्यवस्था दी जाती थी। लेकिन जब से भाजपा की सरकार बनी है।तब से खिलाड़ियों की सारी योजनाओं को बन्द कर दिया गया है। कार्यक्रम को सम्बोधित करने वालों में मुख्य रूप सईद कुरैशी रामनिहोर यादव, रामप्यारे सिंह पटेल, ओमप्रकाश त्रिपाठी, परमेश्वर यादव, सुरेश पटेल, त्रिपुरारी गोड़, बबलू धांगर, स्वदीप श्रीवास्तव लकी (राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी) विष्णु केशरी,अमरजीत, दीपू, धीरज, अमन, संजय, मंगरु आदि लोगों ने कार्यक्रम को सम्बोधित किया एवं आज के घेरा कार्यक्रम मैं सैकड़ों समाजवादी कार्यकर्ता उपस्थित रहे ।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com