Friday , September 30 2022

डीआईजी ने कानून व्यवस्था पर ली अफसरों की बैठक

आनंद कुमार चौबे/अंशु खत्री (संवाददाता)

सोनभद्र । आज विंध्याचल मंडल के पुलिस उपमहानिरीक्षक रामकृष्ण भारद्वाज ने आज सोनभद्र का दौरा किया। पुलिस लाइन चुर्क में उन्होंने सर्वप्रथम गार्द की सलामी ली इसके पश्चात वो पत्रकारों से मुखातिब हुए। इन दौरान उन्होंने पत्रकारों से जनपद के विषय में जानकारी प्राप्त की तथा जनपदीय रुपरेखा के बारे में विचार-विमर्श करते हुए उनसे समस्याओं के सम्बंध में जानकारी प्राप्त की। डीआईजी ने पुलिस के साथ मिलकर एवं आपसी सामंजस्य व सहयोग करते हुए कार्य करने की अपील की साथ ही साथ जनहित एवं कानून व्यवस्था से सम्बंधित कार्यों के विषय में भी पत्रकारों एवं मीडियाकर्मियों से राय ली, जिससे की जनपद में कानून व शान्ति व्यवस्था और सुदृढ़ की जा सके।

इसके बाद डीआईजी ने समन्वय गोष्ठी के तहत जनप्रतिनिधियों एवं व्यापार मंडल के पदाधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया।

इस दौरान डीआईजी ने व्यापारियों को सुरक्षा के दृष्टिकोण से अपने-अपने दुकानों/संस्थानों मे सीसीटीवी कैमरे का प्रयोग करने और 24 घंटे क्रियाशील रखने हेतु बताया साथ ही साथ उनकी समस्याओं के विषय मे जानकारी ली तथा व्यापारियों को उनके सुरक्षा के सम्बंध मे पुलिस द्वारा हरसम्भव मदद का भरोसा दिलाया।
इस दौरान व्यापार संघ के पदाधिकारियों एवं उद्यमियों ने डीआईजी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

इसके उपरांत जनपद में अपराध नियंत्रण/कानून व्यवस्था के दृष्टिगत पुलिस उपमहानिरीक्षक की अध्यक्षता में पुलिस अधीक्षक सहित जनपद के समस्त अपर पुलिस अधीक्षक, क्षेत्राधिकारी एवं थाना प्रभारियों के साथ अपराध एवं कानून व्यवस्था के संबंध में समीक्षा गोष्ठी की। गोष्ठी के दौरान दौरान थाना दिवस व तहसील दिवस पर विशेष ध्यान देने, जमीन सम्बन्धित विवाद में पुलिस व राजस्व टीम द्वारा संयुक्त रुप से मिलकर विवाद को निस्तारित कराने व वन विभाग के जमीन सम्बन्धित मामले में पुलिस, राजस्व व वनविभाग को मिलकर काम करने के बारे में विस्तृत रुप से चर्चा की।
इसके अलावा अन्य महत्वपूर्ण बिन्दुओं जैसे न्यायालय व उच्चाधिकारीगण के आदेशों/निर्देशों का शत् प्रतिशत पालन कराने, IGRS पोर्टल पर प्राप्त होने वाले शिकायती प्रार्थनापत्रों का भली-भाँति अवलोकन कर उनमें निष्पक्ष जांच करने तथा समय से उनको निस्तारित करने, अवैध शराब/मादक पदार्थों के परिवहन/बिक्री व पशु तस्करी पर पूर्ण रूप से रोक लगाने, हत्या, लूट, डकैती, दुष्कर्म, दहेज हत्या, नकबजनी, चोरी, वाहन चोरी जैसी घटनाओं पर रोक लगाने, बैंक और सहज जनसेवा केंद्रों की नियमित चेकिंग करने, गैंगेस्टर एक्ट के लंबित गम्भीर अपराधों में शीघ्र शेष कार्रवाईयां पूर्ण करते हुए विवेचना निस्तारण किये जाने, अनावरण हेतु शेष अपराधों के शीघ्र अनावरण हेतु कार्य योजना बनाकर कार्यवाही किये जाने, वांछित अभियुक्तों की गिरफ्तारी करने, जनपद व थाना स्तर पर टॉप-10 अपराधियों को चयनित कर उनके विरूद्ध निरोधात्मक कार्यवाही करने, जमानत पर बाहर आए अपराधियों की लगातार निगरानी करने, बीट प्रभारी व बीट आरक्षी को प्रतिदिन अपने बीट में जाने, भ्रमण करने, लोगों से मिलने, आवश्यक सूचनाओं का संकलन करने, थाने पर आने वाले प्रत्येक फरियादियों की समस्याओं को ध्यान से सुनने, सौम्य एवं मृदुल व्यवहार करने तथा शिकायत/समस्या का समाधान अविलम्ब करने एवं महिला सम्बन्धी अपराधों पर अंकुश लगाने तथा महिलाओं की सुरक्षा व सहायता पर विशेष ध्यान देने, एण्टी रोमियो स्क्वाड को सक्रिय करने, सभी मुख्य बाजार/मार्गों, चौराहों एवं हाइवे पर रात्रि गस्त एवं प्रभावी चेकिंग करने, सोशल मीडिया पर भ्रामक व गलत संदेश/सूचना को किसी भी प्लेटफार्म पर प्रसारित करने वाले के विरुद्ध कठोर कार्रवाई करने तथा थानों पर महिला हेल्प डेस्क, डॉयल 1090, 112, 108, UPCOP इत्यादि से जनता को लगातार जागरूक करते हुए प्राप्त निर्देशों के अनुरूप कार्रवाई करने के सम्बन्ध में समस्त थाना-प्रभारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।

इस मौके पर पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक मुख्यालय विनोद कुमार एवं ऑपरेशन राजीव कुमार सिंह, पत्रकारगण, विधायक सदर भूपेश चौबे, विधायक दुद्धी हरिराम चेरो, रतनलाल गर्ग, मिठाई लाल सोनी, विमल अग्रवाल, सूरज ओझा, चन्दन केशरी, प्रकाश केशरी, राजेश गुप्ता, श्रीकान्त गुप्ता, संतोष केशरी मौजूद रहे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com