Monday , October 3 2022

अन्न के बहाने घर-घर पहुँचे योगी-मोदी, कांग्रेस ने काम को बताया निंदनीय

आनन्द कुमार चौबे/अंशु खत्री (संवाददाता)

सोनभद्र । मोदी-योगी की तस्वीर वाली बैग में राशन मिलने से राजनीति गर्म हो गयी। जहाँ विपक्ष इसे चुनावी स्टंट बताते हुए प्रधानमंत्री पर गरीबों को राशन देने में भी अपनी राजनीति चमकाने का आरोप लगा रछ है, वहीं भाजपा इसे कोरोना काल की एक उपलब्धि बता रही है।

दरअसल गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी ने ‘अन्न महोत्सव’ कार्यक्रम की शुरुआत है। जिसके तहत सभी कार्ड धारकों को निःशुल्क राशन के साथ एक बैग भी दिया जा रहा है लेकिन खास बात यह है कि कार्ड धारकों को दिए गए बैग पर सीएम योगी आदित्यनाथ व पीएम नरेंद्र मोदी की तस्वीर छपी है।बस फिर क्या जैसे ही कांग्रेस के नेताओं को यह जानकारी हुई तो वे भड़क गए और भाजपा पर जमकर भड़ास निकाला।

कांग्रेस की जिला उपाध्यक्ष संगीता श्रीवास्तव ने कहा कि “यह बहुत ही निंदनीय है कि एक गरीब को राशन देते समय भी पीएम और सीएम अपनी फोटो लगा कर बैग दे रहे हैं। यह सिर्फ चुनावी स्टंट है। बेतहासा मंहगाई कमर तोड़ रही है और भाजपा देशवासियों की गाढ़ी कमाई से अपनी राजनीति चमकाने में लगी है। कांग्रेस पार्टी इसका घोर विरोध करती है और इसके विरोध में कांग्रेस सड़क पर आकर आंदोलन करेगी।”

प्रधानमंत्री द्वारा कोविड काल में नवम्बर तक मुफ्त राशन दिए जाने की घोषणा के बाद से राशन दुकानों पर भीड़ बढ़ गयी है। लेकिन महगांई की मार से परेशान लोगों का कहना ही कि सिर्फ मुफ्त राशन से परिवार का पेट नहीं चलने वाला, उसके साथ अन्य सामान भी लगता है, जो सरकार को देना चाहिए। हालांकि कई कार्डधारक इस योजना को अच्छा तो बता रहे हैं लेकिन वह भी महगांई के कारण परेशान दिखे। उनका कहना है कि सरकार को महगांई पर सोचना चाहिए।

कार्ड धारकों से मिल रहे जबाब को देखते हुए जनपद मिरर की टीम ने अपनी पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए एक गरीब के किचन में झांका तो हकीकत सामने आ गई।

गरीब परिवार ने बताया कि “जिस तरह से महगांई बढ़ी है उससे गुजारा चलना मुश्किल हो गया है। उसने बताया कि साल भर से सिलेंडर भी भरा नहीं पाया।”

वहीं भाजपा ओबीसी मोर्चा के जिलाध्यक्ष अशोक मौर्या ने कहा कि “कोरोना काल में बहुत से लोगों के रोजगार चले गए। जिसकी वजह से उनके सामने भरण-पोषण की समस्या खड़ी हो गई। जिसको देखते हुए केंद्र सरकार ने गरीबों के कल्याण के लिए अन्न महोत्सव अभियान का आयोजन किया है।”

बहरहाल यूपी में विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है और भाजपा का यह दांव विपक्षियों को रास नहीं आ रहा क्योंकि भाजपा राशन के बहाने जिन करोड़ों लोगों को यह बैग थमाया है वह भले ही भाजपा के वोटर न हों लेकिन जब-जब राशन लेने कोटे की दुकान जाएगा प्रचार योगी और मोदी का ही करेगा।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com