Wednesday , October 5 2022

जिलाधिकारी ने बाढ़ग्रस्त इलाकों का किया दौरा, देखा नुकसान

आनंद चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिले में हो रही लगातार बरसात से उत्पन्न जल भराव/बाढ़ के प्रति जिला प्रशासन संजीदा है। जिलाधिकारी श्री अभिषेक सिंह ने हो रही बरसात से उत्पन्न जल भराव व बाढ़ के मद्देनजर जिला बाढ़ कन्ट्रोल रूम की स्थापना कर दी है। जो 24 घंटे क्रियाशील है। जिलाधिकारी ने बताया कि जिला बाढ़ राहत कन्ट्रोल रूम का टेलीफोन नम्बर-05444-222384 घंटे क्रियाशील है। बरसात से जल भराव, बाढ़ व बाढ़ से किसी भी प्रकार की मदद के लिए जिला बाढ़ राहत कन्ट्रोल रूम पर सीधा सम्पर्क किया जा सकता है। जिलाधिकारी ने बताया कि स्थानीय स्तर पर उप जिलाधिकारियों, तहसीलदारों से भी बाढ़ राहत के सम्बन्ध में किसी भी समय सम्पर्क करके जानकारी दी जा सकती है और राहत प्राप्त किया जा सकता है।

जिलाधिकारी ने राबर्ट्सगंज तहसील के राजस्व गांव ममुआ, हिन्दुवारी, बेलन नदी, नई गांव, परसौना आदि गांवों का स्थलीय जायजा लिया। स्थानीय लोगों से बात की और मौके पर मौजूद उप जिलाधिकारी सदर डॉ0 कृपा शंकर पाण्डेय को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।
जिलाधिकारी श्री सिंह ने जल भराव/बाढ़ प्रभावित गांव ममुआ, हिन्दुवारी, नई गांव, परसौना आदि गांवों का मौके पर जाकर जायजा लिया। उन्होंने राजस्व विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे जल भराव/बाढ़ से प्रभावित फसलों की क्षति, पशु हानि, जन हानि, मकान हानि आदि की रिपोर्ट तत्काल प्रस्तुत करें और जरूरतमंदों को जरूरत के मुताबिक भोजन आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करायें। जिलाधिकारी ने कहा कि जिन गांवों में जल भराव की स्थिति है, वहां पर स्वास्थ्य विभाग ब्लीचिंग का छिड़काव कराने के साथ ही पेयजल के शुद्धीकरण के लिए ब्लीचिंग आदि का वितरण नागरिकों में किया जाय, ताकि जल भराव व बाढ़ की स्थिति में संचारी रोग पनपने न पायें। उन्होंने नागरिकों से अपील किया है कि जिन रपटा अथवा पुलियों पर ओवर फ्लो करके पानी तेजी से बह रहा है। उन रपटा, पुलियों यानी बहाव वाले रास्तों से आना-जाना बन्द रखें। उन्हेंने कहा कि जिले के सभी उप जिलाधिकारी जरूरत के मुताबिक नांव की व्यवस्था भी करें। जिले के सभी उप जिलाधिकारियों व तहसीलदारों को जिलाधिकारी ने आदेशित किया है कि जल भराव व बाढ़ से हुई नुकसानी के रिपोर्ट/आकलन के आधार पर आपदा राहत मद से लोगों को राहत पहुंचायी जाय। उन्होंने कहा है कि राजस्व कर्मी, लेखपाल अपने-अपने क्षेत्रों में रहें और किसी भी प्रकार की जनहानि, पशु हानि न हो के सम्बन्ध में नागरिकों को जागरूक करें और जहां कहीं जनहानि, पशुहानि, फसल हानि, मकान हानि हुई है, उसकी रिपोर्ट तत्परता के साथ तत्काल उपलब्ध करायें।
जिलाधिकारी अभिषेक सिंह द्वारा जिले के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के भ्रमण के दौरान उप जिलाधिकारी सदर डॉ0 कृपा शंकर पाण्डेय सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहें।

previous arrow
next arrow

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com