Monday , September 26 2022

बारिश का कहर: भारी बारिश के धारा से टूटा पूल आवागमन ठप, आठ गरीबों के मकान गिरे

राजेश कुमार (संवाददाता)

-चपकी-नधिरा संपर्क मार्ग पर बना था पुल

बभनी। सप्ताह भर से क्षेत्र में हो रही झमाझम बारिश से ने जन जीवन अस्त व्यस्त कर दिया है।कही कच्चे के मकान तो कहीं सड़क पर बने पुल ध्वस्त हो गये।
क्षेत्र में हो रही लगातार बारिश ने लोगों को मुसीबत में डाल दिया है। शनिवार को दिन भर हो रही झमाझम बारिश ने चपकी- नधिरा संपर्क मार्ग पर सैकड़ों वर्ष पुरानी बने पुल को बहा दिया।पुल के बह जाने से आवागमन पूरी तरह से ठप हो गया। संयोग रहा कि पुल रात में करीब नौ बजे टूटा अगर दिन में टूटता तो बड़ी घटना हो सकती थी।रात में पुल टूटने के बावजूद भी राजसरई गांव का रहने वाला नरेन्द्र उफनाते जल की धारा के चपेट में आ गया और वह बहने लगा।टूटे पुल को देखने के लिए आये लोगों की नजर बहते हुए नरेंद्र पर पड़ गयी। लोगों ने कुछ दूर जाकर उसे बचाया।अगर लोग वहां नहीं रहते तो शायद नरेंद्र बह कर दूर निकल जाता। सप्ताह भर से क्षेत्र में हो रही बारिश से पूरा जीवन अस्त व्यस्त हो गया है।

गांवों में बने कच्चे मकान गिरना शुरू कर दिये है।कुछ गांवों चक चपकी,बरवाटोला, चैनपुर,घघरी में मकान बारिश के वजह से जमींदोज भी हो चुके हैं। चैनपुर गांव में सूरजदेव, उर्मिला देवी,राजकुमारी,मानमती,देवंती देवी,लीलावती का मकान बारिश से गिर गया वहीं करकच्छी गांव निवासी संदीप कुमार तथा मोतीलाल का घर लगातार बारिश से धराशाही हो गया। इतना ही नहीं असनहर निवासी शिवकुमार देव का चाहदीवारी और गौशाला भी जमींदोज हो गया। लगातार हो रही बारिश के वजह से जमीन में झील भी फूट चुका है जिसके कारण और भी खतरा बढ़ गया है।चपकी-नधिरा संपर्क मार्ग पर बने पुल के ध्वस्त हो जाने से लोगों को अब अतिरिक्त आठ किलोमीटर का दूरी तय करना पड़ेगा। लोगों को लैराटोला संपर्क मार्ग से होकर नधिरा मोड़ पर पहुंचना होगा।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com