साइबर सेल ने ₹1.05 लाख की ठगी में ₹80 हजार कराए वापस

मनोज वर्मा/अंशु खत्री (संवाददाता)

रेनुकूट/चुर्क । गत 17 जुलाई को शिकायतकर्ता नीतू सिंह निवासिनी रेनुकूट थाना पिपरी नेउसके खाते से साइबर क्राइम द्वारा 1.05 लाख रुपये गायब करने का मामला दर्ज कराया। जिस पर आज साइबर सेल की सक्रियता से शिकायतकर्ता के खाते में 80 हजार रुपये वापस करा दिया गया। जिसके बाद शिकायतकर्ता ने पुलिस के इस कार्यवाही की प्रशंसा करते हुए कहा कि उसे उम्मीद है कि जल्द ही उनकी शेष धनराशि भी वापस मिल जाएगी।

शिकायतकर्ता नीतू सिंह ने अपने साथ हुए साइबर ठगी के बारे बताया कि गत 17 जुलाई को किसी अज्ञात व्यक्ति ने मोबाइल पर कॉल कर बताया कि मैं बैंक का अधिकारी बोल रहा हूं। आपके खाते का KYC अपडेट करना है कृपया आप अपने बैंक से सम्बन्धित विवरण साझा करें और जब उन्होंने अपने खाते से सम्बन्धित विवरण साझा किया गया तो उनके खाते से 1.05 लाख रु0 की धोखाधड़ी कर लिया गया।

जिसके बाद शिकायतकर्ता ने तत्काल पुलिस अधीक्षक को उक्त घटना के सम्बन्ध में एक प्रार्थना पत्र दिया गया। जिस पर पुलिस अधीक्षक ने साइबर सेल को त्वरित कार्यवाही करने के लिए निर्देशित किया। प्रभारी साइबर सेल उ0नि0 सरोजमा सिंह, का0 अभिषेक तिवारी व का0 शैलेन्द्र कुमार ने आवेदिका के दिये गये शिकायती प्रार्थना पत्र पर त्वरित कार्यवाही करते हुए सम्बन्धित बैंक, कैश-फ्री कम्पनी व शेफ-गोल्ड कम्पनी से सम्पर्क कर शिकायतकर्ता के खाते में 80 हजार रु0 वापस कराया तथा शेष धनराशी वापस कराने के लिए प्रयासरत हैं।

पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने कहा कि “साइबर ठगी के मामले में समय बहुत ही महत्वपुर्ण होता है। यदि समय रहते साइबर सेल को साइबर ठगी की सूचना दे दी जाय तो रिकवरी आसान हो जाती अन्यथा विलम्ब हो जाने पर रिकवरी में परेशानियों का सामना करना पड़ता है।”

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!