दुद्धी में फिर बाहर आया जिला बनाओ का जिन्न, विधायक बोले- नहीं बना काम तो हमारा रुख भी होगा अलग

रमेश यादव (संवाददाता)

दुद्धी । 2022 विधानसभा चुनाव का विगुल बजते ही हर राजनीतिक दल सक्रिय हो चला है । चुनाव के पहले हर राजनीतिक दल मुद्दा ढूंढने में जुटा हुआ है । लेकिन सोनभद्र के दुद्धी में वर्षों से एक ही मुद्दा चला आ रहा है दुद्धी को जिला बनाओ । इस मुद्दे पर वर्षों से चुनाव लड़ा जा रहा लेकिन आज तक न तो जिला बना और न कोई ठोस पहल दिखा । हकीकत यह है कि जिला बनाने के नाम पर यहां के लोगों की भावनाओं के साथ जरूर खेला गया ।

भाजपा व अपनादल गठबंधन ने 2017 का विधानसभा का चुनाव दुद्धी को जिला बनाये जाने को लेकर ही लड़ा था और जीत हासिल की थी । 2017 विधानसभा चुनाव जीतने के लिए भाजपा सहित उसके सहयोगी दलों की तरफ से कहा गया था कि आप हमें आशीर्वाद दें, हम आपको जिला बनाकर देंगे। मगर योगी सरकार के लगभग साढ़े चार साल बीत चुके हैं और अब तक न कोई हलचल दिखी और न कोई पहल ।

अब जब 2022 का चुनाव सामने है तो एक बार फिर जिला बनाये जाने का जिन्न बाहर आ गया है । वर्षों से दुद्धी को जिला बनाये जाने की मांग कर रहे जिला बनाओ संघर्ष समिति के प्रभु सिंह कुशवाहा का आरोप है कि पिछली बार चुनाव में बीजेपी ने वादा किया था कि वह जिला बनाएगी लेकिन अब तक पूरा नहीं हुआ ।

दुद्धी बार एशोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष कुलभूषण पांडेय ने योगी सरकार को अल्टीमेटम देते हुए कहा कि 2017 विधानसभा चुनाव में जनता विश्वास कर दुद्धी के साथ ओबरा की सीट झोली में डाली थी लेकिन इस बार सोचना होगा ।

वहीं दुद्धी विधायक हरिराम चेरो का कहना है कि वे जिला बनाये जाने को लेकर कई बार मुख्यमंत्री से मुलाकात की और हर बार अश्वासन मिला ।

उनका कहना है कि वे जल्द ही इस मुद्दे को लेकर अंतिम बार मुख्यमंत्री से मिलने जा रहे हैं, यदि उचित जबाब नहीं मिला तो वे अलग रुख अख्तियार करेंगे ।

बहरहाल दुद्धी विधायक एक बार फिर जिला बनाये जाने को लेकर अंतिम बार प्रयास करने की बात कह रहे हैं क्योंकि उन्हें पता है कि आगामी विधानसभा चुनाव में सूबे में मुद्दा कुछ भी हो लेकिन दुद्धी में मुद्दा जिला बनाये जाने का ही गूंजेगा ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!