बच्चों को नही मिला एमडीएम का खाद्यान,कोटेदार के यहां से निराश लौटे बच्चे

रमेश यादव (संवाददाता )

दुद्धी।कोरोना काल में बन्द चल रहे प्राथमिक एवं जूनियर हाईस्कूल के बच्चों को मिलने वाली एम डी एम का खाद्यान सभी बच्चों को नही मिलने से कई बच्चे कोटेदार के यहां से निराश होकर लौट रहे हैं।जिससे बच्चों एवं उनके माता पिता आबंटन को लेकर निराशा देखी जा रही हैं।
दुद्धी ब्लॉक में संचालित लगभग सभी स्कूलों के बच्चों को खाद्यान्न के लिए प्राधिकार पत्र तो बांट दी गई लेकिन बच्चे जब कोटेदार के यहां खाद्यान्न लेने गए तो खाद्यान्न आबंटन कम होने का हवाला देकर कई बच्चों को कोटेदार ने लौटा दिया जिससे बगैर खाद्यान्न लिए बच्चे बैरंग घर वापस लौट गए।जुलाई महीने में प्राथमिक तथा उच्च प्राथमिक विद्यालय के बच्चों को अध्यापकों ने प्राधिकार पत्र वितरण किए हैं जिसके अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालय के बच्चों को चावल 9.2 किलोग्राम तथा गेंहू 4.6 किलोग्राम मिलना था।जहां कोटेदार ने आबंटन के अनुसार लगभग 60 – 70 प्रतिशत बच्चों को ही खाद्यान्न वितरण कर सके ।इसके बाद गल्ला कम आने का हवाला देते बच्चों तथा उनके अभिभावकों को वापस कर दिया गया और अभी भी कई स्कूलों के 30 से 40 प्रतिशत बच्चों को खाद्यान्न नही मिल पाई है।अब प्रधानाध्यापक शेष बच्चों को जल्द खाद्यान्न मिलने की बात कह रहे हैं फिर भी अभिभावकों में एक साथ सभी बच्चों को खाद्यान्न नही मिलने से आक्रोश व्याप्त है।

खण्ड शिक्षा अधिकारी आलोक कुमार ने बताया कि कम पड़े खाद्यान्न की मांग की गई हैं एक – दो दिनों में गल्ला मिलने की उम्मीद है।इसके कोटेदार गल्ला उठाकर अवशेष रह गए बच्चों को खाद्यान वितरण करेंगे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!