अपराध नियंत्रण एवं कानून व्यवस्था से सम्बंधित समीक्षा गोष्ठी का आयोजन

अंशु खत्री/दिलीप श्रीवास्तव (संवाददाता)

चुर्क। पुलिस लाइन चुर्क स्थित सभागार कक्ष मे अपराध नियंत्रण/कानून व्यवस्था के सम्बन्ध में की गयी समीक्षा गोष्ठी व सम्बन्धित को दिए गए आवश्यक दिशा-निर्देश जिलाधिकारी सोनभद्र अभिषेक सिंह व पुलिस अधीक्षक सोनभद्र अमरेन्द्र प्रसाद सिंह की संयुक्त अध्यक्षता में पुलिस लाइन स्थित सभागार कक्ष में जनपद के समस्त अपर पुलिस अधीक्षक, उपजिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी एवं थाना प्रभारी के साथ अपराध एवं कानून व्यवस्था के संबंध में समीक्षा गोष्ठी की गई। गोष्ठी के दौरान थाना दिवस व तहसील दिवस पर विशेष ध्यान देने,जमीन सम्बन्धित विवाद में पुलिस व राजस्व टीम द्वारा संयुक्त रुप से मिलकर विवाद को निस्तारित कराने व वन विभाग के जमीन सम्बन्धित मामले में पुलिस,राजस्व व वनविभाग को मिलकर काम करने के बारे में विस्तृत रुप से चर्चा की गयी। तत्पश्चात सैनिक सम्मेलन आयोजित कर समस्त थानों से आये कर्मचारीगण की समस्याओं के बारे में जानकारी की गयी व उनके निस्तारण हेतु सम्बंधित को निर्देशित किया गया तदोपरांत आगामी त्योहारों के दृष्टिगत की गयी तैयारियों,

अराजक तत्वों पर प्रभावी निरोधात्मक कार्यवाही करने, माननीय न्यायालय व उच्चाधिकारीगण के आदेशों/निर्देशों का शत् प्रतिशत पालन कराने, IGRS पोर्टल पर प्राप्त होने वाले शिकायती प्रार्थनापत्रों का भली-भाँति अवलोकन कर उनमें निष्पक्ष जांच करने तथा समय से उनको निस्तारित करने,अवैध शराब/मादक पदार्थों के परिवहन/बिक्री व पशु तस्करी पर पूर्ण रूप से रोक लगाने, हत्या, लूट, डकैती, बलात्कार, दहेज हत्या, नकबजनी, चोरी, वाहन चोरी जैसी घटनाओं पर रोक लगाने, बैंक और सहज जनसेवा केंद्रों की नियमित चेकिंग करने, गैगेस्टर एक्ट के लंबित गम्भीर अपराधों में शीघ्र शेष कार्यवाहियां पूर्ण करते हुए विवेचना निस्तारण किये जाने, अनावरण हेतु शेष अपराधों के शीघ्र अनावरण हेतु कार्य योजना बनाकर कार्यवाही किये जाने,

वाछिंत अभियुक्तों की गिरफ्तारी करने, जनपद व थाना स्तर पर टॉप-10 अपराधियों को चयनित कर उनके विरूद्ध निरोधात्मक कार्यवाही करने, जमानत पर बाहर आए अपराधियों की लगातार निगरानी करने, बीट प्रभारी व बीट आरक्षी को प्रतिदिन अपने बीट में जानें, भ्रमण करने, लोगों से मिलने, आवश्यक सूचनाओं का संकलन करने, थाने पर आने वाले प्रत्येक फरियादियों की समस्याओं को ध्यान से सुनने, शौम्य व्यवहार करने तथा शिकायत समस्या का समाधान अविलम्ब करने एवं महिला सम्बन्धी अपराधों पर अंकुश लगाने तथा महिलाओं की सुरक्षा व सहायता पर विशेष ध्यान देने, एण्टी रोमियो स्क्वाड को सक्रिय करने, सभी मुख्य बाजार मार्गों, चौराहों एवं हाइवे पर रात्रि गश्त एवं प्रभावी चेकिंग करने, सोशल मीडिया पर सतर्क दृष्टि रखने तथा भ्रामक व गलत संदेश सूचना को किसी भी प्लेटफार्म पर प्रसारित करने वाले के विरुद्ध कठोर कार्रवाई करने तथा थानों पर महिला हेल्प डेस्क, सवेरा योजना, 1090, 112, 108, UPCOP इत्यादि से जनता को लगातार जागरूक करते हुए प्राप्त निर्देशों के अनुरूप कार्यवाही करने के सम्बन्ध में समस्त थाना-प्रभारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!