निर्दलीय बने दलीय के खेवनहार

मनोहर कुमार

* निर्दलियों पर दांव लगा दिए राजनीतिक दल
* दिलचस्प हुआ जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव
चंदौली। धान के कटोरे के रूप में विख्यात चंदौली जनपद में जिले का प्रथम नागरिक बनने के लिए चुनाव दिलचस्प हो गया है।निर्दलीय पर दांव लगाकर भाजपा व सपा आमने सामने आ गए हैं। आरक्षित सीट होने के कारण अन्य पिछड़े वर्ग का उम्मीदवार पर दांव लगा है। राजनीतिक दलों के लिए दलीय निष्ठा का सवाल भी खड़ा हो गया है। अब देखना है बाजी किसके हाथ लगती है।
जिला पंचायत अध्यक्ष पद को कब्जाने की जोड़-तोड़ तेज हो गई है। जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में जिला पंचायत सदस्य अपने दल को लेकर कितने आस्थावान है? इसकी परीक्षा भी होगी साथ ही राजनीतिक दलों के सामने अपने समर्थक जिला पंचायत सदस्यों को भटकने से रोकने की भी चुनौती होगी। निर्दलीय पर दांव लगाने के बाद दोनो दलों के लिए चुनौती सा बन गया है। जनपद में पैंतीस जिला पंचायत सदस्य हैं। इन सदस्य में ज्यादातर दूसरे दलों के बागी है। सपा वोट के मामले में भाजपा से दलीय आधार पर दो सीट जायदा है। जबकि निर्दलीय भारी है।
ऐसे में सभी पार्टियों के लिए अपने दलीय खेमे को बचाए रखने की बड़ी चुनौती आ पड़ी है।
निर्दलीय जिला पंचायत सदस्य राजनीतिक हवा का रुख देखकर ही सपा और भाजपा को समर्थन देने का निर्णय ले सकते हैं।किंग बनाने के लिए किंग मेकर भी सामने आ रहे हैं। देखना है बाजी किसके हाथ लगती है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!