कार्रवाई: तीर्थ पुरोहित की पिटाई करने वाले तीन पुलिसकर्मी निलंबित, पुरोहित पर भी मुकदमा दर्ज

जनपद न्यूज़ ब्यूरो

मिर्जापुर । मां विंध्यवासिनी मंदिर परिसर में तीर्थ पुरोहित की पिटाई किए जाने के मामले में पुलिस अधीक्षक ने तीन सिपाहियों को निलंबित कर दिया है। साथ ही कोविड-19 नियम का उल्लंघन करने और पुलिस के साथ दुर्व्यवहार करने व सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने पर तीर्थ पुरोहित के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया गया है।

जानकारी के अनुसार, मां विंध्यवासिनी मंदिर परिसर में रविवार की दोपहर कोरोना कर्फ्यू के दौरान अपने यजमान को दर्शन कराने लेकर जा रहे पुरोहित की तैनात पुलिसकर्मियों से झड़प हो गई थी। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने पुरोहित अमित पांडेय की जमकर पिटाई कर दी।

इसके बाद पुलिस और पंडा समाज आमने-सामने हो गए। काफी संख्या में इकट्ठा हुए पंडा समाज ने विरोध जताते हुए कहा कि पुलिस अधिकारियों और परिचितों को दर्शन करा रही है और पुरोहित बाहर से आए दर्शनार्थी को दर्शन करा रहे हैं तो रोका जा रहा है।

विरोध-प्रदर्शन को देखते हुए विंध्याचल कोतवाल ने मौके पर पहुंचकर तीर्थ पुरोहित से बात कर मामला शांत कराया। पंडा की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह ने तीर्थ पुरोहित की पिटाई करने वाले तीन सिपाहियों को निलंबित कर दिया है।
इसके साथ ही कोरोना कर्फ्यू नियम का उल्लंघन कर दर्शन कराने के मामले में पंडा अमित पांडे पर सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करने पर मुकदमा दर्ज किया गया है साथ ही पुलिस के साथ दुर्व्यवहार करने का भी लगाया है।

एएसपी सिटी संजय वर्मा ने बताया कि “मारपीट में तीन सिपाहियों को सस्पेंड किया है। तीर्थ पुरोहित अमित पांडे पर मुकदमा दर्ज किया गया है। अमित पांडे पर पूर्व में भी 18 मुकदमे दर्ज हैं।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!