खेग्रामस कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री को संबोधित सौंपा ज्ञापन

शहाबगंज।अखिल भारतीय खेत एवं ग्रामीण मजदूर सभा तथा भाकपा (माले) के राज्य आह्वान पर संगठन के कार्यकर्ताओं ने कामरेड रामायण राम के नेतृत्व में मुख्यमंत्री को संबोधित 6 सूत्रीय ज्ञापन खंड विकास अधिकारी की अनुपस्थिति में एडीओ कोऑपरेटिव सुनिल कुमार पाल को सौंपा।
सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना महामारी ने प्रदेश में लाखों लोगों को असमय हमसे छीन लिया है| इलाज में लाखों रुपए खर्च कर कर्ज में फंस गए है।बड़े पैमाने पर लोगों का रोजी रोजगार छीन गया है। खाद्य तेल सामग्री सहित डीजल पेट्रोल की बढ़ती कीमतों ने ग्रामीणों का बजट बिगाड़ दिया है। सरकार द्वारा दी जा रही राहत सामग्री ऊंट के मूंह में जीरा साबित हो रही है। यदि स्वास्थ्य व्यवस्था दुरुस्त रही होती तो लाखों लोगों की जान बचाई जा सकती थी।
खेग्रामस राष्ट्रीय पार्षद ने मांग करते हुए कहा कि ब्लाक के सभी गांव में कोरोना महामारी काल में हुई सभी मृत्यु को कोरोना मृत्यु मानते हुए परिजनों को 10 लॉख रुपए आर्थिक सहायता दिया जाए,ब्लॉक के सभी पीएचसी सीएचसी अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड,आईसीयू वेंटीलेटर, पैरामेडिकल स्टाफ व चिकित्सकों की गारंटी दिया जाय,पोलियो की भांति गांव-गांव में फ्री टीकाकरण किया जाए।मनरेगा मजदूरों सहित सभी ग्रामीण गरीबों को तत्काल तीन माह तक का 10हजार भक्ता दिया जाए।
ग्रामीण गरीबों के बच्चों की स्कूली शिक्षा कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए, प्रारंभ किया जाए तथा प्रत्येक बच्चों को स्मार्टफोन दिया जाए,आम लोगों,सामाजिक राजनीतिक मानवाधिकार कार्यकर्ताओं द्वारा कोरोन प्रोटोकॉल का पालन करते हुए किए जाने वाले कार्यक्रम में पुलिस द्वारा अनावश्यक हस्तक्षेप ,नजरबंदी गिरफ्तारी जैसे कार्यवाही पर तत्काल रोक लगाई जाए सहित मांग पत्र सौपा गया। सभा में राम किशुन पाल, शमशेर चौधरी,रामबचन बनवासी, कतवारू बनवासी, बुल्लू पासवान, कुंभकरण राम, कमली देवी,बुल्लू बनवासी,लाल बरत राम, कुंज बिहारी यादव,बुद्धा देवी,आकली, सोनम सहित तमाम कार्यकर्ता मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!