संदिग्ध परिस्थिति में विवाहिता की मौत, इलाज में सुधार न होने पर अस्पताल से ले आये थे घर

धर्मेन्द्र गुप्ता (संवाददाता)

-बीते 22 मई को बभनी थाना क्षेत्र के धनवार गांव में हुई थी शादी- एक हफ्ते पहले तबियत खराब होने पर पति ने पहुंचा दिया था मायके, रविवार को हो गई मौत
विंढमगंज। थाना क्षेत्र के बैरखड़ गांव में मायके आई एक विवाहिता की रविवार को रात में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। बैरखड़ निवासी मोदीलाल गोंड़ ने एक महीने पहले बीते 22 मई को अपनी छोटी बेटी चांदमुनी ( 22वर्ष) का विवाह बड़े धूम्रधाम से बभनी थाना क्षेत्र के धनवार गांव में देव किशुन पुत्र बैजनाथ के साथ किया था।मायके के लोगों ने बताया कि एक हफ्ते पहले दामाद देव किशुन ने अपनी पत्नी चांदमुनी को तबियत खराब होने की बात कहते हुए बैरखड़ गांव स्थित मायके पहुंचा दिया था। मृतका के पिता मोदीलाल गोंड़ ने बताया कि बेटी इतनी कमजोर हो गई थी कि वह ठीक से बोल भी नहीं पा रही थी।उन्होंने कहा कि दो दिन पहले दुद्धी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज के बाद उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया था।रविवार को हालत में कोई सुधार नहीं होने पर परिजन उसे घर ले आए थे जहां रात में करीब आठ बजे उसकी मौत हो गई।बैरखड़ ग्राम प्रधान उदय पाल ने बताया कि सोमवार को मृतका के ससुराल और मायके पक्ष के लोगों के बीच सुलह समझौते के बाद शव का अंतिम संस्कार करने के लिए ससुराल वाले अपने साथ ले गए।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!