बैंक मैनेजर व कर्मी पर लगा विकलांग से जालसाजी करने का आरोप, पीड़ित ने लगाई न्याय की गुहार

संजय केसरी (संवाददाता)

डाला। स्थानीय डाला पुलिस चौकी क्षेत्र स्थित एक बैंक शाखा के बैंक मैनेजर व कर्मी द्वारा विकलांग से जालसाजी कर पैसा हड़पने का मामला प्रकाश में आया हैं । जिसे लेकर पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक से न्याय की गुहार लगाई हैं।

जानकारी के मुताबिक विकास खण्ड चोपन के ग्राम पंचायत पड़रछ निवासी विजय कुमार शर्मा पुत्र स्वर्गीय केश्वर निवासी ग्राम पंचायत पड़रछ टोला पड़वा कोदवारी जो कि 90 % विकलांग (फ्लोराईड से ग्रसित) हो चुका है । इसका खाता है डाला स्थित एक बैंक में है । विजय कुमार शर्मा ने बताया कि प्रबंधक व बैंक चपरासी द्वारा प्रलोभन दिया गया कि के.सी.सी करा लो। दवा का खर्च निकल जायेगा। विकलांग होकर चारपाई पर पड़े रहे विजय को बैंक कर्मियों की जालसाजी समझ में नही आई व दवाई के लिए बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने की सोच लिया । बैंक वालों ने बताया कि पैसे का भुगतान करा दिया जाएगा। अपने पत्नी का व अपना फोटो लगा कर संयुक्त खाता खुलवा लो। के.सी.सी. के माध्यम से पत्नी नीरू देवी को 5 फरवरी को पच्चास हजार का भुगतान करके चपरासी द्वारा उनतालीस हजार ले लिया गया।

बतादें कि विजय फ्लोराईड ग्रसित होने के कारण विकलांग हो गया है । जिसकी वजह से उठ कर बैठ भी नहीं पाता । दो आदमी उठाकर ऑटो पर बैठाते हैं तो कहीं पर आ जा सकता हैं। कई बार पैसों को लेकर चपरासी से कहा गया तो आज-कल कह कर टाल दिया करता था । जब इसको लेकर विजय लोगों से कहना शुरु किया तो बैंक चपरासी ने कहा कि हल्ला न करो तुम्हारे खाते में अभी दस हजार रुपये है । दोनों पैसा मिल जाएगा। लेकिन तीन महीने बीतने के बाद जब पीड़ित ऑटो करके किसी तरह अपनी पत्नी के साथ घर से 20 किलोमीटर डाला स्थित बैंक पहुंचा तो चपरासी ने अपना तेवर ही बदल दिया व बोला कि पैसा नहीं मिलेगा । जिस कारण भुक्तभोगी विजय ने पुलिस अधीक्षक से लिखित तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई हैं।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!