जिले के क्रयकेंद्रों पर सप्ताह भर से गेहूं लेकर ट्राली में खड़ें हैं किसान

संजीव कुमार पांडेय (संवाददाता)

राजगढ़ । जिले के गेहूं क्रय केंद्रों पर सप्ताह भर से ट्रैक्टर ट्राली में गेहूं लादकर खड़े किसानों को अतिरिक्त किराए का भुगतान करना भारी साबित हो रहा है। क्रयकेंद्रों पर कभी बरसात के कारण खरीद नहीं हो पा रही है तो कभी बोरा के अभाव में गेहूं का तौल नहीं कराया जा रहा है। हालांकि शासन से गेहूं खरीद की तिथि बढ़ा कर 22 जून कर दिया गया है, लेकिन यदि खरीद की गति यहीं रही तो बढ़ाई गयी तिथि के अंदर सभी किसानों से शायद ही गेहूं की खरीद हो सके।
लालगंज के विपणन शाखा पर अब तक कुल 18 हजार कुंतल गेंहू की खरीद हो चुकी है। क्रयकेंद्र प्रभारी का कहना है कि सभी किसानों का आरटीजीएस के माध्यम से भुगतान कर दिया गया और 16 हजार छ: सौ पच्चास कुंतल गेंहू एफसीआई को डिलवरी कर दिया गया है। क्रयकेंद्र पर पड़े शेष गेहूं का भी जल्द ही डिलवरी कर दिया जाए गया। इसके बावजूद क्रय केंद्र पर डेढ़ दर्जन से अधिक किसान अपना गेंहू ट्रैक्टर पर लाद कर अपनी पारी का इंतजार कर रहे है। वहीं राजगढ़ में बीते दो दिनों से खराब मौसम के कारण क्रय केंद्रों पर किसानों की भारी भीड़ लगी रही। गेहूं की खरीद मंगलवार को शुरू कर दी गयी। इसके बावजूद कई किसान अभी भी अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। हॉट शाखा के प्रभारी वीरेंद्र वीर यादव ने बताया कि 15 जून तक लगभग 400 किसानों से 16050 कुंतल गेहूं की खरीद हो चुकी है। हाट शाखा से 460 किसानों को गेहूं बेचने के लिए टोकन जारी किए गए थे। दूसरी ओर जिगना के खाद्य एवं रसद विभाग के क्रय केंद्र गैपुरा मे अब तक 281 किसानों से 11 हजार 567 कुंतल गेहूं की खरीद की गई है। क्रय केंद्र के बाहर गेंहू लदे आधा दर्जन ट्रैक्टर खड़े हैं। सक्तेशगढ़ क्षेत्र तेंदुआ कला सहकारी समिति पर बोरा के अभाव में किसानों से गेहूं की खरीद नहीं हो पा रही है। हलिया के क्षेत्रीय किसानों को टोकन नंबर जारी किए जाने के बावजूद गेहूं की खरीद नहीं होने से किसानों में आक्रोश हैै। विकास खंड के मवई कलां स्थित राजकीय विपणन केन्द्र पर खाद्य विभाग ने दो गेंहू क्रयकेन्द्र खोल रखा है। प्रथम केन्द्र पर 378 किसानों को टोकन जारी किया गया था। अब तकक 352 किसानों से गेहूं खरीद की जा चुकी है। वहीं दूसरे केन्द्र पर 390 को टोकन जारी हुआ है। इनमें 341 किसानों से गेहूं खरीदा गया है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!