बड़ी चूक:महिला आरक्षित सीट पर निर्वाचित हुआ पुरुष उम्मीदवार

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही(ब्यूरो)

गाजीपुर।गाजीपुर जिले में सेवराई तहसील के सरैला गांव के वार्ड नंबर-9 में ग्राम पंचायत सदस्य के चुनाव में बड़ी गड़बड़ी सामने आई है। वार्ड में विकास मौर्य ने ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिए नामांकन किया था।एकल नामांकन होने की सूरत में विकास को निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया। जब विकास को निर्वाचित होने के बाद शपथ दिलायी गई,तब रिटर्निंग ऑफिसर को अपनी गलती का एहसास हुआ। दरअसल,यह सीट महिला उम्मीदवार के लिए रिजर्व थी। अब इस मामले में कोई भी जिम्मेदार अधिकारी बोलने से बच रहा है।
बताया जा रहा है कि सरैला गांव के वार्ड नंबर-9 से ग्राम पंचायत सदस्य के चुनाव के लिए विकास मौर्य ने नामांकन किया था। नामांकन के बाद उस वार्ड से किसी अन्य का नामांकन नहीं होने पर विकास को निर्विरोध विजयी घोषित कर दिया गया। जीत के बाद औपचारिक रूप से शपथ भी दिलाई गई। वह ग्राम सभा की नवनिर्वाचित समिति की एक, दो बैठकों में भी शिरकत कर चुके हैं।जब रिटर्निंग ऑफिसर और अन्य जिम्मेदार लोगों को यह सीट महिला आरक्षित होने की जानकारी मिली तो हड़कंप मच गया।
इसके बाद अधिकारी विकास को अपने घर की किसी महिला का आधार कार्ड और दस्तावेज उपलब्ध करा उसे ग्राम पंचायत सदस्य बनवाने का दबाव बना रहे हैं। ग्रामीणों और विकास के समर्थकों में इस बाद को लेकर भारी गुस्सा है कि जब सीट महिला उम्मीदवार के लिए रिजर्व थी तो पुरुष कैंडिट का नामांकन किस आधार पर स्वीकार किया गया और तो और विजयी भी घोषित कर शपथ ग्रहण भी करा दिया गया।
जिला पंचायत राज अधिकारी रमेश उपाध्याय से इस मामले में मीडिया ने जानकारी लेनी चाही तो उन्होंने कहा कि अगर किसी सीट को महिला के लिए रिजर्व किया गया है तो उस सीट पर महिला उमीदवार ही निर्वाचित होगी। इस मामले को वह डीएम के संज्ञान में लाएंगे। जो भी निर्देश मिलेगा उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!