ट्रांसफार्मर खराब तो करें 1912 पर कॉल

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । गांवों में खराब अथवा फुंका ट्रांसफार्मर 48 घंटे के भीतर हर सूरत में बदला जाएगा। इसके लिए निगम ने उपभोक्ताओं के लिए टोल फ्री नंबर 1912 जारी किया है। इस नंबर पर कॉल करने के बाद 48 घंटे में विभाग के कर्मियों को ट्रांसफार्मर बदलना होगा। जिले में कुल करीब 32356 स्थानों पर कम और अधिक क्षमता के ट्रांसफार्मर स्थापित हैं। इन ट्रांसफार्मर के जरिए ही नगरीय एवं ग्रामीण अंचल में बिजली की आपूर्ति की जाती है। ग्रामीण इलाकों के लोगों के सामने बड़ी समस्या थी कि उनका ट्रांसफार्मर फुंकने के बाद उनकी सुनने वाला कोई नहीं होता था। ग्रामीण क्षेत्रों में फुंका ट्रांसफार्मर बदलने में 15 दिन से एक माह तक का समय लग जाता था। इतना ही नहीं ग्रामीणों को इसके लिए सुविधा शुल्क भी चुकाना पड़ता था।

लोगों की इस समस्या को देखते हुए विद्युत निगम ने इस प्रक्रिया को काफी सरल बना दिया है। निगम की तरफ से जारी टोल फ्री नंबर पर किसी भी उपभोक्ता द्वारा 1912 पर कॉल करने के बाद उसका नंबर रजिस्टर्ड हो जाएगा, जिसके बाद ट्रांसफार्मर फुंकने की स्थिति में उसे मात्र 48 घंटों में बदला जा सकेगा।

अब गांव में नहीं करना होगा चंदा

पहले फुंका अथवा खराब ट्रांसफार्मर को बदलवाने के लिए लोगों को गांव में घर-घर चंदा जुटाना होता था। स्टोर-वर्कशॉप पर कर्मचारी लोगों से दूसरा ट्रांसफार्मर देने की एवज में पैसा ऐठ लेते थे। नई व्यवस्था में अब भ्रष्टाचार खत्म होगा। ग्रामीणों को ट्रांसफार्मर बदलवाने के लिए न तो चंदा जुटाना होगा और न ही परेशानियां झेलनी होगी।

इस संबंध में बिजली विभाग के एक्सईएन सर्वेश सिंह का कहना है कि “विभागीय टोल फ्री नंबर 1912 पर शिकायत मिलने पर शहरी एवं ग्रामीण अंचल में जले ट्रांसफार्मर को 48 घंटे के अंदर बदल दिया जाता है। कहा कि किसी उपभोक्ता के टोल फ्री नंबर पर कॉल करने पर निर्धारित समय सीमा में समस्या का समाधान किया जाएगा। फिर भी कोई अधिकारी या कर्मचारी उन्हें परेशान करता है तो सीधे उनसे शिकायत करें। ऐसे कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!