नौकरी के नाम पर सऊदी गया युवक चार साल से चरा रहा बकरी, अब वतन वापसी की लगा रहा गुहार

संजीव कुमार पांडेय (संवाददाता)

मिर्जापुर । जिले के लालगंज थाना क्षेत्र के उसका गांव निवासी केदारनाथ बेरोजगार होने के चलते परेशान था। वह नौकरी की तलाश में था कि इसी दौरान उसे एक एजेंट ने लाखों की कमाई का सपना दिखाया और पासपोर्ट बनवाकर पांच वर्ष पूर्व 2016 में सऊदी अरब भेज दिया। एजेंट ने युवक से कहा था कि उसे वहां बच्चों की देखभाल करने की नौकरी करनी होगी। इसके एवज में उसे अच्छी तनख्वाह मिलेगी।

केदार की पत्नी ने बताया कि एक सप्ताह पहले उनका फोन आया था। फोन पर रोते हुए उन्होंने कहा कि यहां आकर फंस गया हूं। वह अपने देश लौटना चाह रहे हैं लेकिन उसे लौटने नहीं दिया जा रहा है। पासपोर्ट जब्त कर लिया गया है। 15 सौ रुपये प्रतिमाह वेतन की बात करके नौकरी दी गई थी, लेकिन एक हजार ही दे रहा है। उसमें भी छह माह से वेतन रुका हुआ है। जबरदस्ती भेड़ बकरी चराने के साथ खेती करवाई जा रही है। उसने एजेंट पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया है। घर पर केदार की एक बेटी और दो बेटे हैं, सभी छोटे हैं। परिजनों ने विदेश मंत्रालय से केदारनाथ के वतन वापसी की गुहार लगाई है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!