शौचालय निर्माण में ब्यापक अनियमितता की जाँच में मिली खामियां

विवेक मिश्रा (संवाददाता)

शाहगंज । राज्य सरकार द्वारा भले ही भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए तमाम प्रयास किए जा रहे हैं परंतु इसके ठीक विपरीत ग्राम पंचायतों में ग्राम प्रधान और और सेक्रेटरी की मिलीभगत से आज भी सरकारी धन का दुरुपयोग व्यापक पैमाने पर किया जा रहा है। जी हां यह अलग बात है जहां शिकायत की जा रही है वहां जांच के बाद रहस्य से पर्दा उठ रहा है और जहां शिकायत नहीं हो रही है वहां सब गोलमाल है। अभी इसी ग्राम पंचायत में मनरेगा द्वारा फर्जी जॉब कार्ड के माध्यम से हजारों रुपए निकालने की जांच चल ही रही थी की पुना शौचालय घोटाला का प्रकरण सामने आ गया।
शासन द्वारा शौचालय निर्माण के लिए प्रदत्त की जाने वाली धनराशि का किस तरह से संबंधितओं द्वारा मानकों की अनदेखी करते हुए खुल्लम-खुल्ला मजाक उड़ाया गया है जिसका जीता जागता प्रमाण ग्राम पंचायत खैरा है।

शिकायतकर्ता के जांच पर पहुंची जिला कार्यक्रम कोऑर्डिनेटर किरण ने जनपद न्यूज़ लाइव को बताया कि इस ग्राम पंचायत में कॉल 11 शौचालय निर्माण में व्यापक रूप से अनियमितता देखने को मिली है।उन्होंने बताया कहीं फर्स नहीं बना है तो कहीं छत निर्माण नहीं हैं, तो कहीं दीवाल, स्थिति जो भी हो लेकिन यह बात साबित हो गई की ग्राम पंचायत में शिकायतकर्ता द्वारा कही गई बातें सही हैं।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!