चाणक्य नीति: जिस व्यक्ति में ये 4 गुण होते हैं, वह एक अच्छा लीडर होता हैं साबित, जानें लीडर के गुणों के बारे में

नेतृत्व क्षमता बहुत लोगों में होती है, हालांकि सभी अच्छे लीडर भी हो ये जरूरी नही है। सभी को साथ लेकर चलने वाले को एक अच्छा लीडर माना जाता है। आचार्य चाणक्य ने नीति शास्त्र में जीवन के तमाम पहलुओं के साथ एक अच्छे व सफल नेता के गुणों का भी वर्णन किया है। चाणक्य कहते हैं कि जिस व्यक्ति में ये 4 गुण होते हैं, वह एक अच्छा लीडर साबित होता है। लोग उसे भविष्य में याद करते हैं। जानिए एक अच्छे लीडर के गुणों के बारे में-

दातृत्वं प्रियवक्तृत्वं धीरत्वमुचितज्ञता
अभ्यासेन न लभ्यन्ते चत्वारः सहजा गुणाः।

1. धैर्य:
चाणक्य कहते हैं कि खुद को संतुलित रखने के लिए व्यक्ति में धैर्य जरूरी है। धैर्य होने पर वह विपरीत परिस्थियों का भी बहादुरी के साथ सामना कर सकता है। ऐसे लोग दूसरों को भी प्रेरणा देते हैं। यह समय अनुकूल होने का इंतजार करते हैं और उसी के हिसाब से फैसले लेते हैं।

2. मीठी वाणी:
नीति शास्त्र के अनुसार, व्यक्ति की पहचान उसकी वाणी से होती है। बुरा बोलने वालों को कोई पसंद नहीं करता है। इसके विपरीत मीठा व अच्छा बोलने वाले सभी के प्रिय होते हैं। एक अच्छे लीडर को हमेशा अच्छा व मीठा बोलना चाहिए।

3. दान:
चाणक्य कहते हैं कि जिस व्यक्ति में दान की भावना नहीं होती है, वह दूसरों का दुख नहीं समझ सकता है। एक अच्छे लीडर में दान की भावना होती है। ऐसे लीडर को सभी लोग पसंद करते हैं।

4. फैसला लेने की क्षमता:
चाणक्य कहते हैं कि हर लीडर में निर्णय लेने की क्षमता होना जरूरी होता है। जीवन कौन-सा समय आपके पक्ष में आएगा और कौन-सा नहीं, इसके बारे में कोई नहीं जानता। एक अच्छा लीडर हमेशा लोगों के हित में काम करता है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!