गेहूं बेचने के लिए किसान व केंद्र प्रभारी के बीच विवाद

संजीव कुमार पांडेय (संवाददाता)

राजगढ़ । क्षेत्र के गेहूं क्रय केंद्र पर तौल के लिए कई दिनों से रखे गए किसान के गेहूं की तौल न होने से आक्रोशित किसानों व केंद्र प्रभारी के बीच कहासुनी हो गई। केंद्र प्रभारी की सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसानों को समझा-बुझाकर शांत कराया।

वर्षों से राजगढ़ में खुले क्रय केंद्र को इस वर्ष समय से नहीं खोला गया था। क्षेत्र के किसानों की तरफ से गेहूं क्रय केंद्र खोले जाने की बार-बार मांग किए जाने पर किसी तरह 27 मई को राजगढ़ में गेहूं क्रय केंद्र खोला गया। क्रय केंद्र पर गेहूं बेचने के लिए किसानों की भारी भीड़ जमा हो गई। लगभग सप्ताह भर से क्रय केंद्र पर रखे गेहूं को बेचने के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे किसानों के सब्र का बांध टूट गया।आक्रोशित किसानों ने गेहूं क्रय केंद्र प्रभारी का घेराव कर लिया और किसान व केंद्र प्रभारी के बीच नोंकझोंक हो गई। बात बढ़ते देख केंद्र प्रभारी ने इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी। मौके पर पहुंचे मड़िहान थाना प्रभारी राजकुमार सिंह व राजगढ़ पुलिस चौकी प्रभारी रमाशंकर यादव ने किसी तरह से किसानों को समझा-बुझाकर शांत कराया।
किसानों ने आरोप लगाया कि गेहूं क्रय से संबंधित अधिकारी क्षेत्र के किसानों के साथ सौतेला व्यवहार कर रहे हैं। उन्हें परेशान किया जा रहा है। खरीफ की बुवाई करीब है। खाद, बीज व डीजल खरीदने की आवश्यकता आ गई है। परंतु गेहूं न बिकने से आर्थिक तंगी से जूझ रहे किसान मायूस व लाचार हैं। किसान अरविंद सिंह, अवधनाथ मिश्र, देवशरण सहित क्षेत्रीय किसानों ने बंद किए गए पचोखरा व राजगढ़ दोनों क्रय केंद्र को चलाने व गेहू खरीद की समय सीमा बढ़ाने की मांग की है, अन्यथा सात जून से क्षेत्र के किसान आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!