प्रकृति की रक्षा करना हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी- एन नागेश

मनोज वर्मा (संवाददाता)

रेनुकूट । हिंडाल्को रेनुकूट में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर पौधरोपण का आयोजन किया गया। हिंडाल्को के मुखिया श्री एन नागेश ने पौधा रोपित कर प्रकृति के संरक्षण एवं संवर्धन का संदेश दिया। साथ ही सभी कर्मचारियों एवं अधिकारियों को पर्यावरण के प्रति सजग रहने के लिए प्रेरित किया।
यूनाइटेड नेशन द्वारा इस साल के पर्यावरण दिवस की थीम – “इको सिस्टम रिस्टोरेशन” घोषित की गई है। जिसका अर्थ है- पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली। यानी पृथ्वी को एक बार फिर से बेहतर अवस्था में लाना। इस बार उन गतिविधियों पर जोर दिया जाएगा जिससे दुनिया की पारिस्थितिकी तंत्र को फिर से कायम किया जा सकें। प्राकृतिक प्रतिक्रियाओं और उभरती हुई हरित तकनीकों पर जोर दिया जाएं।
इस अवसर पर श्री नागेश ने सर्वप्रथम हिंडाल्को समूह के प्रबंध निदेशक श्री सतीश पाई जी द्वारा प्रेषित संदेश सभी को पढ़ कर सुनाया। तत्पश्चात सेफ्टी एवं एनवायरनमेंट विभाग के प्रमुख मुकेश मित्तल ने सभी को हरित शपथ दिलवाई। मौके पर उपस्थित सभी को संबोधित करते हुए नागेश जी ने कहा कि प्रकृति के बिना मानव जीवन कुछ भी नहीं है। मनुष्य कितना ही विलासितापूर्ण जीवन क्यों न जिएं, राहत की सांस, सुकून और शांति वह प्रकृति से जुड़कर ही महसूस करेगा। उन्होंने कहा – अब वो दौर अब आ चुका है कि सभी को पर्यावरण के प्रति अति जागरूक होना चाहिए।प्राकृतिक संपदा का सम्मान करना जरूरी है अंधाधुंध दोहन नहीं। प्रकृति को किसी भी प्रकार से गंदा नहीं करें।कोशिश करें कि अधिक से अधिक साइकिल का ही इस्तेमाल करें। यह प्रकृति और सेहत दोनों के लिहाज से अच्छा है। इस मौके पर प्लांट्स हेड – शब्देंदु मोहन, बीजे एलेक्जेंडर, जगन्नाथ नायक समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!