किसान इंटर कॉलेज में कृषि बिल के विरोध में भारतीय किसान यूनियन के ने तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन

गौरव पाण्डेय (संवाददाता)

फरीदपुर बरेली। भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने स्थानीय किसान इंटर कॉलेज में सरकार द्वारा किसानों के हित में बनाए गए तीन कृषि बिल को किसानों ने किसान विरोधी करार दिया था और इस बिल को वापस लेने की मांग की थी। सरकार द्वारा कृषि बिल वापस ना लेने पर इसके विरोध में लंबे समय से किसान धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। मगर सरकार द्वारा बिल वापस न लिए जाने के विरोध में आज किसानों ने धरना प्रदर्शन कर प्राधानमंत्री के नाम संबोधि 2 सूत्रीय ज्ञापन तहसीलदर को सौंपा और सरकार से तीनों बिल वापस लिए जाने की मांग की।

भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के पूर्व जिला अध्यक्ष चौधरी गजेंद्र सिंह के नेतृत्व में किसानों ने आज किसान इंटर कॉलेज में धरना प्रदर्शन कर सरकार द्वारा बनाए गए कृषि संबंधित तीनो कानूनो को किसान विरोधी करार देते हुए तीनों बिलो को सरकार द्वारा शीघ्र वापस किए जाने को लेकर 2 सूत्री ज्ञापन प्रधानमंत्री को संबोधित तहसीलदार फरीदपुर बीके चौधरी को सौंपा। इस अवसर पर किसान यूनियन के पूर्व जिला अध्यक्ष गजेंद्र सिंह यादव ने कहा कि भारत सरकार द्वारा किसानों के हित में बनाए गए कृषि संबंधित तीनो कानून किसान विरोधी है हम सभी किसान इसका विरोध करते हैं ।गत साढे 6 महीने से देश के किसान निरंतर धरना प्रदर्शन कर इसका विरोध कर रहे हैं और इस कानून को वापस लिए जाने की मांग कर रहे हैं। किसान विरोधी तीनों कृषि कानूनों पर विचार कर इन्हें तुरंत वापस लिया जाए। और न्यूनतम समर्थन मूल्य को सभी फसलों पर लागू करते हुए कानून बनाया जाए समर्थन मूल्य से कम पर फसल खरीद को अपराध की श्रेणी में शामिल किया जाए यही किसान हित में होगा। किसान यूनियन ने किसानों की स्थानीय समस्याओं को लेकर भी एक ज्ञापन उप जिलाधिकारी को संबोधित सौंपा और उसमें मांग की कि खतौनी में जिन किसानों की हिस्सेदारी गलत तरीके से दर्ज की गई है उन सभी खतौनी यों की हिस्सेदारी को जांच कर किसानों के सही हिस्से दर्ज किए जाएं गेहूं क्रय केंद्रों पर किसानों से गेहूं कॉल के समय अवैध वसूली की जा रही है उस पर तुरंत अंकुश लगाया जाए एवं गेहूं खरीद हेतु रजिस्ट्रेशन बंद कर दिए हैं गेहूं तौल तक रजिस्ट्रेशन चालू रखे जाएं। पुलिस प्रशासन को जैसे ही किसानों द्वारा धरना प्रदर्शन करने की जानकारी मिली कोतवाली प्रभारी सुरेंद्र सिंह पचोरी भारी पुलिस बल के साथ धरना स्थल पर पहुंच गए। इस दौरान किसानों ने किसान बिल की प्रतियां जलाने का प्रयास किया तो पुलिस व यूनियन के पदाधिकारियों ने फिर भी किसानों ने जैसे ही बिल की प्रतियां जलानी शुरू की वैसे ही कोतवाली प्रभारी सुरेंद्र सिंह पचौरी ने जलती हुई प्रतियों को छीनकर बुझा दिया। इस मौके पर किसान यूनियन के चौधरी हरवीर सिंह यादव ,सुनील सिंह तहसील अध्यक्ष, गंगा राम वर्मा ब्लॉक अध्यक्ष, हरनाथ सिंह सहित बड़ी संख्या में किसान व पदाधिकारी मौजूद रहे। वही धरना प्रदर्शन स्थल पर पुलिस क्षेत्राधिकारी आरके मिश्रा ,तहसीलदार बीके चौधरी, कोतवाली प्रभारी सुरेंद्र सिंह पचौरी , इंस्पेक्टर क्राइम राजेश कुमार,कस्बा इंचार्ज राजकुमार व भारी पुलिस बल के साथ मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!