जिलाधिकारी ने सभी उर्वरक बिक्री केंद्र प्रभारियों को निर्धारित दरों पर बिक्री करने का दिया निर्देशित

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । जिलाधिकारी पुलकित खरे ने आदेश जारी कर कहा कि खरीफ अभियान 2021-22 प्रारंभ हो गया है । जनपद के कृषक भाईयों को सूचित किया जाता है कि जनपद में सहकारी एवं निजी / प्राईवेट प्रतिष्ठानों पर सभी प्रकार के उर्वरक ( यूरिया , डी ए पी . एन पी के , एम ओ पी , आदि ) वर्तमान मांग अनुरूप पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है एवं आगामी दिनों में भी जनपद को उर्वरक की रेक की आपूर्ति जारी रहेगा । सभी कृषक भाईयों से अनुरोध है कि उर्वरक क्रय हेतु अपना आधार कार्ड साथ में लेकर जायें और धनराशि भुगतान किये जाने के उपरान्त प्राप्ति रसीद / पी ओ एस मशीन में से निकली हुई पर्ची अवश्य प्राप्त कर लें । इसके अतिरिक्त कृषको को पुराने दर पर ही डी ए पी , रुपये 1200 प्रति बैंग ( 50 कि 0 ग्रा ) मिलेगा । सरकार ने डी ए पी पर पहले से ही उर्वरक आपूर्तिकर्ता को दी जा रही अनुदान 500 रूपये प्रति बैंग से बढ़ाकर 1200 रूपये कर दी है जिससे कृषकों को डी ए पी विक्री हेतु दर रुपये 1200 प्रति बैग पूर्व की ही भाँति बनी रहेगी । जनपद के समस्त सहकारी एवं निजी क्षेत्र के उर्वरक बिक्री केन्द्र प्रभारियों को निर्देशित किया जाता है कि निर्धारित दरों पर ही उर्वरको का विक्रय करें । साथ ही उर्वरको का विक्रय पी ओ एस मशीन से ही करते हुए धनराशि प्राप्ति की पर्ची कृषक को उपलब्ध करायी जाये । यदि कोई भी विक्रेता निर्धारित दरों से अधिक दरो पर अथवा यूरिया उर्वरक के साथ अन्य गैर जरूरी उत्पाद टैगिंग करता हुआ पाया जाता है तथा काला बाजारी की पुष्टि होती है , तो उसके विरूद्ध उर्वरक नियंत्रण आदेश 1985 एवं आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 के सुसंगत प्राविधानों के अन्तर्गत आवश्यक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!