पुलिस का सबसे बड़ा खुलासा, पत्र लिखकर बताया क्यों लगता है जाम

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

फ़ाइल फोटो

वर्षों बाद प्रशासन को पता चला जाम लगने का कारण

सोनभद्र । वर्षों बाद प्रशासन के एक फैसले ने सभी को चौका दिया है। आचनक प्रशासन को लगने लगा कि जाम की असली वजह मारकुंडी में खड़ी गाड़ियां ही हैं। इसके लिए पुलिस क्षेत्राधिकारी राजकुमार तिवारी ने चोपन एसओ को एक पत्र लिखकर बताया भी है कि मारकुंडी में अनावश्यक रूप से खड़ी गाड़ियों की वजह से जाम की स्थिति बन रही है, इसलिए सात दिवसीय अभियान चलाया जाए। सीओ ने बताया कि अनावश्यक रुप से खड़ी गाड़ियों को हटवाने के लिए अभियान के दौरान नियमित रूप से दो शिफ्ट में ड्यूटी लगाया जाए और इसके लिए रजिस्टर भी बनाया जाय। उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान यदि गाड़ियां खड़ी पाई गई तो संबंधित कर्मचारी की जिम्मेदारी मानते हुए उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

सीओ सदर राजकुमार तिवारी ने बताया कि “इस अभियान के लिए दो शिफ्ट में कार्य करने हेतु दो टीम तैनात की गयी हैं। एक टीम की कमान गुरमा चौकी प्रभारी अंजनी कुमार राय तथा दूसरी टीम की कमान उ0नि0 चंद्रशेखर सिंह को सौंपी गई है। प्रत्येक टीम में एक उपनिरिक्षक के अतरिक्त चार सिपाही भी रहेंगे। दोनों टीमों की 12-12 घंटे की शिफ्टवार ड्यूटी लगाई गई है। अब यदि बगैर किसी कारण के सड़क किनारे ट्रक खड़ा मिलता है तो ड्यूटीरत कर्मचारियों की लापरवाही मानते हुए कड़ी कार्यवाही की जाएगी।”

बहरहाल लम्बे समय बाद पुलिस को लोगों की समस्या का एहसास हुआ लेकिन अब भी एक बड़ा सवाल यह खड़ा है कि क्या यह समस्या एक सप्ताह के अभियान से समाप्त हो जाएगा।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!