डाला में मनाया गया शहीद दिवस, दी गई श्रद्धांजलि

संजय केसरी (संवाददाता)

– 2 जून को गोली कांड में हुए थे शहीद

– 30 साल पहले फैक्ट्री के निजीकरण के विरोध में चली थी गोली

डाला। 2 जून डाला के इतिहास का हमेशा नया सबेरा लेकर आता है। 1991 में तत्कालीन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने डाला की यूपी सीमेंट फैक्ट्री को डालमिया को महज 55 करोड़ रुपये में बेच दिया था। विरोध के स्वर लगातार बढ़ रहे थे । सत्ता फैसले से परेशान थी और विपक्ष लगातार हाबी होता जा रहा था। विरोध कर रहे कर्मचारियों को दबाने के लिये उन्होंने दो जून 1991 को डाला में गोली चल गयी । जिसमें सीमेंट कारखाने के नौ कर्मचारियों को अपनी जान गवानी पड़ी थी।

उसी की याद में हर वर्ष दो जून को शहीद स्थल पर शहीद दिवस मनाया जाता है और श्रद्धांजलि दी जाती है ।

इसी क्रम में आज सभी नौ शहीदों के परिवार के सदस्यों ने माल्यार्पण किया । वही भाजपा जिलाध्यक्ष अजित चौबे, सदर विधायक भूपेश चौबे , अल्ट्राटेक यूनिट हेड राहुल सहगल, ओमप्रकाश तिवारी, गायत्री तिवारी, मनोज चौरसिया, मुकेश जैन, धर्मवीर तिवारी, नरेंद्र नीरव, संतोष उर्फ बबलू, धीरेंद्र कुमार पटेल उर्फ सोनू, अजय तिवारी, अंजनी पटेल, चंद्र प्रकाश तिवारी, आनंद पटेल दयालु, राजेश दृवेदी, के साथ – साथ सैकड़ो लोगों ने इस सहादत दिवस पर उपस्थित होकर माल्यर्पण किया। तथा अपने बीच रहे हरेंद्र कुमार पाण्डे की मृत्यु पर भी गहरा शोक प्रकट किया। इस बीच शांति व्यवस्था को लेकर चौकी इंचार्ज एस के सोनकर, चोपन थानाध्यक्ष नवीन तिवारी दल बल से साथ उपस्थित रहें।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!