चुनाव में शिक्षकों की मौत पर संगठन की मांग, एक करोड़ के मुआवजे के साथ मृतक आश्रित को दें नौकरी- लक्ष्मी कांत शर्मा

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

० शिक्षक संघ के अध्यक्ष व जिला मंत्री उपवास पर बैठे।

पीलीभीत। जनपद में कोरोना संक्रमण के चलते त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के कारण कई शिक्षकों की मृत्यु हो गई है।उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ शर्मा गुट प्रदेश नेतृत्व के आव्हान पर पीलीभीत में रविवार को वर्चुअल मीटिंग का आयोजन किया गया । जिसमें बरखेड़ा, बीसलपुर ,जहानाबाद, पूरनपुर ,जनपद के प्रत्येक भाग से शिक्षक जुड़े , मीटिंग में शिक्षकों ने अपने विचार व्यक्त किए ।अनुज मिश्रा ने कहा कि यह आश्चर्य की बात है अभी तक किसी ने भी कोऱोना संक्रमण के चलते ग्राम पंचायत चुनाव के कारण शिक्षकों की मृत्यु का नैतिक उत्तरदायित्व नहीं लिया। राकेश गंगवार ने कहा कि जब उच्च न्यायालय के निर्देश पर चुनाव हो सकते हैं तो एक करोड़ का मुआवजा भी शिक्षकों को दिया जाना चाहिए। करुणाशंकर मिश्रा, कविता यादव, अनुराग गंगवार, रोहताश कुमार, गौरव मिश्रा, देवेन्द्रकुमार, मंजू विश्वकर्मा आदि ने भी विचार रखें । जिला मंत्री सतीश गंगवार ने मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री उत्तर प्रदेश शासन को भेजे जाने वाला ज्ञापन पढ़ा, जिसमें मृतक शिक्षकों के परिवारों को एक करोड़ का मुआवजा, योग्यता शिथिल कर मृतक आश्रितों को सेवा में लिया जाना, नई पेंशन योजना के स्थान पर पुरानी पेंशन योजना लागू करना, नई पेंशन योजना से आच्छादित शिक्षकों की मृत्यु पुरानी पेंशन योजना का लाभ देने पर एनपीएस में हुई कटौती को वापस ना लेना, वित्तविहीन विद्यालयों व इनके शिक्षकों के लिए आर्थिक पैकेज की घोषण सहित कई मांगें थीं। शिक्षकों ने माध्यमिक, बेसिक, वित्तविहीन, राजकीय, केंद्रीय विद्यालय, महाविद्यालय, प्रशिक्षण संस्थान आदि के सभी मृतक शिक्षकों तथा उनके परिवार में हुई परिजनों की मृत्यु पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए 2 मिनट का मौन रखा गया ।तत्पश्चात शिक्षक उपवास पर गए अध्यक्ष लक्ष्मीकांत शर्मा ने साथियों का आव्हान किया की हम सभी संगठन की शक्ति है ।उसे बल दे ।संगठन निरंतर सरकार से अनुरोध कर रहा है। यदि सरकार नहीं मानती है, तो संगठन जो भी निर्णय लेगा हम सब उसके साथ हैं।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!