15 हजार फीट की ऊंचाई पर देश की रक्षा करते शहीद हुआ मेरठ का लाल

मेरठ का एक और लाल देश की सेवा करते हुए शहीद हो गया। मेरठ के मटौर निवासी कैप्टन श्रेयांश उत्तरी सिक्किम की 15 हजार फीट की चोटी पर देश की रक्षा करते हुए शहीद हो गए। 2019 में 108 इंजीनियर रेजीमेंट की बॉम्बे सैपियर्स में उन्हें आठ जून 2019 को पहली तैनाती मिली थी।
शनिवार देर रात उनका पार्थिव शरीर उनके पैतृक आवास पर पहुंचा। और आज उनका अंतिम संस्कार किया गया। वहीं मौके पर सैंकड़ों की संख्या में लोग शहीद के अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे ।
वह उत्तरी सिक्किम में 27 एमटीएन डिव में तैनात थे। अधिक ऊंचाई पर निगरानी के वक्त ही उनके सीने में दर्द की शिकायत होने लगी। इसके तुरंत बाद ही उन्हें उल्टियां शुरू होने लगी। कैप्टन श्रेयांश को तुरंत अस्पताल ले जाया गया। जहां उन्होंने अंतिम सांस ली।

सेना की ओर से जारी किए गए आधिकारिक बयान के अनुसार उनके परिवार में पिता शिव गोविंद सिंह, माता सीमा सिंह, बहन सृष्टि और भाई शिवांश हैं। उनके शहीद होने पर बॉम्बे सैपियर्स ने शोक व्यक्त किया है।
पश्चिमी यूपी सब एरिया के प्रवक्ता ने बताया कि शहीद श्रेयांश कश्यप का पार्थिव शरीर शनिवार देर रात उनके पैतृक आवास पर पहुंचा। शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए सैकड़ों की संख्या में लोग उमड़ पड़े हैं। युवा शहीद श्रेयांश कश्यप अमर रहे के नारे लगाने लगे। रात से ही उन्हें पूरा गांव उनके आवास पर उन्हें अंतिम सलामी देने पहुंच रहे हैं। वहीं, जवान की शहादत की खबर सुनकर परिवार में कोहराम मच गया। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!