धूमधाम से मनाई गई माता सीता जयंती

गौरव पाण्डेय (संवाददाता)

फरीदपुर (बरेली)। सीता नवमी हिंदुओं के सबसे शुभ त्योहारों में से एक है क्योंकि इस दिन भक्तों ने देवी सीता के जन्म का उत्सव मनाया था। हिंदू कैलेंडर के अनुसार ये शुभ दिन वैशाख मास के शुक्ल पक्ष के दौरान नवमी तिथि को पड़ता है। इस वर्ष सीता जयंती जिसे जानकी नवमी के रूप में भी जाना जाता है। आज जगबीर पाल सिंह तोमर शिक्षा समिति ने शुक्रवार 21 मई को माता सीता जयंती धूमधाम से मनाई। समिति के प्रदेश अध्यक्ष समाजसेवी अमित तोमर एडवोकेट ने बताया इस दिन विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए एक दिन का उपवास रखती हैं और उनका आशीर्वाद लेने के लिए भगवान राम और माता सीता की पूजा करती हैं। साथ ही हिंदू शास्त्रों के अनुसार, इस दिन व्रत और पूजा करने वाले भक्तों को तीर्थयात्रा और दान का लाभ भी मिलता है। उन्होंने कहा यह दुर्भाग्य है कि अभी बहुत कम लोग ही सीता माता की जयंती मनाते हैं। जबकि सीता माता के कारण ही श्री राम मर्यादा पुरुषोत्तम बने। इस अवसर पर महाराणा प्रताप सेवा समिति तथा जे पी एस तोमर शिक्षा समिति के पदाधिकारियों सहित कुसुमलता तोमर, अरुण तोमर, रजनीश सिंह, सोनल तोमर, वंशिका सिंह, नंदिनी सिंह, अमितांश तोमर, वंश प्रताप सिंह सहित अन्य भक्तों ने हिस्सा लिया और अपील की कि अब हिंदू समाज सीता माता की जयंती धूमधाम से प्रतिवर्ष बनाए।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!