प्रपत्र- 49 गायब होने पर पूर्व सांसद ने जताई गड़बड़ी की आशंका

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही (ब्यूरो)

गाजीपुर। अधीक्षण अभियंता नलकूप मंडल कार्यालय में उस समय बखेड़ा खड़ा हो गया जब पूर्व सांसद राधेमोहन सिंह को प्रपत्र 49 देने की बजाय इसे गुम बताया गया।प्रपत्र 49 को लेकर अधिकारी एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते रहे।ऐसे में राधेमोहन सिंह ने एक बार फिर से सैदपुर प्रथम क्षेत्र से पराजित अपनी पत्नी अंजना सिंह को साजिश के तहत हरवाने का आरोप लगाया।जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को तलब कर लिया है।
राधेमोहन सिंह सर्मथकों के साथ प्रपत्र-49 के लिए पहुंचे थे।वहां यह कहते हुए इसे देने से इन्कार किया गया कि वह नहीं मिल रहा है, गुम हो गया।इतना ही नहीं, संबंधित अधिकारी इसे लेकर एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने लगे।ऐसे में राधेमोहन सिंह ने आरोप मढ़ा कि हम लोगो को साजिश के तहत यह चुनाव हराया गया है।जब प्रपत्र 49 नहीं है तो 50 और 51कैसे बना और कैसे परिणाम की घोषणा हुई।पूर्व सांसद ने बताया कि जानबूझकर अधिकारियों द्वारा प्रपत्र 49 देने में देरी की जा रही है,जिससे हम निर्धारित समय के अंदर न्यायालय में न जा सकें।सैदपुर आरओ दिलीप पांडेय का कहना है कि यह उसी समय संबंधित को सौंप दिया गया।अब वह क्या हुआ वही जानें।उधर,इस संदर्भ में जिला पंचायत आरओ अधीक्षण अभियंता नलकूप मंडल आरबी मल ने बताया कि प्रपत्र 49 कहीं फाइल में दब गया होगा।उसे खोजा जा रहा है।
प्रपत्र-49 की सूचना ब्लाक मुख्यालय पर रहती है, निर्वाचन कार्यालय में प्रपत्र-50 व 51 जमा कराया जाता है।वह उन्हें उपलब्ध करा दिया गया है।आरओ से प्रपत्र-49 मांगा गया है। आरओ द्वारा उपलब्ध कराए जाने पर उन्हें प्रदान कर दिया जाएगा।-एसएन सिंह, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!