आनलाईन योगशिविर “स्वयं सिद्धा” कार्यक्रम का नियमित आयोजन

जनपद न्यूज ब्यूरो

० कठिन से कठिन समय और मुश्किल हालात में भी प्राणिक हीलिंग, योग प्राणायाम, ध्यान एवं तनाव मुक्ति कार्यक्र ब्यक्ति के अंदर असीम ऊर्जा का संचार करता है- डॉ संपदा गंगवार

शक्तिनगर । अपने सकारात्मक पहल के अनवरत प्रयास के तहत एनटीपीसी- एसएसटीपीपी, मानव-संसाधन विभाग सिंगरौली शक्तिनगर के सौजन्य से आनलाईन योग शिविर “स्वयं सिद्धा” कार्यक्रम का नियमित आयोजन का शुभारम्भ बुधवार
से प्रतिदिन नियत समय 6.00 to 6.30 AM और फिर 6.00 to 6.30 PM को एस पी एफ के सौजन्य से प्राणिक हीलिंग, योग प्राणायाम , ध्यान एवं तनाव मुक्ति कार्यक्रम किया जा रहा है।

आज के इस महत्वपूर्ण उद्घाटन कार्यक्रम में फेकेलिटी डॉ संपदा गंगवार ने अपनी बात रखते हुए कहा कि संकट जितना बड़ा नहीं है संचार तंत्र ने उसे उससे भी बड़ा बना दिया है। इस संकट के निदान और संभावित आसन्न संकट के तनाव से निजात के लिए हमारे जीवन का सार है प्राण का आधार अर्थात हमारी सांस लेने की सही प्रक्रिया और सुचारू रूप से केवल प्राणिक हीलिंग, योग प्राणायाम, ध्यान और चिंतन मनन के माध्यम से ही होगा।

सांस लेने की सही प्रक्रिया को बताते हुए उन्होंने कहा कि सांस लेते समय पेट हल्का बाहर आना चाहिए और सांस छोड़ते समय पेट अंदर की तरफ जाएगा।
हमारी मानसिक अवस्था का आधार सांस लेने के सही प्रक्रिया ही है। उन्होंने इस प्रक्रिया को स्वयं कर के सब को दिखाया और बताया की यही प्रक्रिया सब को 5 से 7 बार प्रतिदिन करना है।

इसी प्रकार से उन्होंने ध्यान योग, प्राणायाम, पैर का, हाथ का, पेट का, गर्दन का और सर कस ब्यायम भी कर के सब को बताया।

अंत में उन्होंने ने चक्र को संतुलित करने की प्रक्रिया को विधिवत समंझाया और इसे नियमित करने की सलाह दी।

कार्यक्रम में वेबिनार के माध्यम से परषत्तोम ठाकुर, एस के सिंह, राजीव कुमार, आदेश पांडेय, सुरेश गिरि प्रखऱ, निलय सचान, प्रभु नाथ, मायाराम, विजय कुमार, राम करन चौबे, राम मूरत, तेजस, एस के सिंह, आर के चौबे और सभी घर के सभी सदस्य जुड़े रहे।
इस कार्यक्रम को आज शाम 6,.00 से 6.30 तक पुनःज्वाइन किया जा सकता है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!