फरीदपुर पुलिस ने व्यापारियों को कोरोना कर्फ्यू का पढ़ाया पाठ

गौरव पाण्डेय (संवाददाता)

फरीदपुर तहसील के कस्बे में लॉकडाउन कर्फ्यू के दौरान बड़े से लेकर छोटे व्यापारी पुलिस प्रशासन को चकमा देने से बाज नहीं आ रहे, साथ ही गरीब जनता का शोषण करने से भी नहीं गुरेज कर रहे । एक तरफ कोरोना महामारी तो दूसरी तरफ व्यापारियों की मुनाफाखोरी लोगों को महामारी से भी ज्यादा घातक होती जा रही है । नगर से लेकर देहात तक के लोगों की मुनाफा खोर व्यापारियों के खिलाफ जब आवाज बुलंद हुई तो फरीदपुर पुलिस मुनाफाखोरी के खिलाफ लामबंद हुई प्रशासन द्वारा आवश्यक सेवाओं से जुड़ी दुकानों को खोलने के लिए सुबह 6:00 बजे से 11:00 बजे तक का समय दुकान खोल ले का निर्धारित किया था मगर व्यापारी लोग इसका नाजायज फायदा उठाने लगे और दुकानों के ताले खोलकर शटर बंद कर दुकान के बाहर बैठकर चोरी छुपे सामान बेच रहे थे जिसकी लगातार शिकायतें मिल रही थी । पुलिस प्रशासन ने आज इस पर स्वत संज्ञान लेते हुए मेन बाजार सर्राफा बाजार स्टेशन रोड बीसलपुर रोड बुखारा रोड पर सख्त चेकिंग अभियान चलाया और दुकान खुली पाई गई । जिसके बाद कुछ दुकानदारों को सख्त कार्यवाही करने की चेतावनी दी तो कुछ दुकानदारों को पुलिस पकड़ कर थाने भी ले गई । इस दौरान दुकानदारों द्वारा लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर कई के चालान भी काट दिए गए।
पूरा देश जहां एक तरफ कोरोना वायरस जैसी गम्भीर बीमारी महामारी से त्राहि-त्राहि कर रहा है वही मौके का फायदा उठाकर कस्बे के कुछ बड़े व्यापारी किराना से लेकर जरूरी अन्य सामान को प्रिंट रेट से ज्यादा मूल्य पर बिक्री कर गरीब जनता का दोहन और शोषण करने में जुटे हैं । उत्तर प्रदेश के सीएम योगी ने लोगों की सुविधा के लिए जरूरी सामग्री की दुकानें खोलने का फरमान क्या सुना दिया था। जिसके बाद मुनाफाखोर व्यापारियों की बल्ले बल्ले हो गई । जहां रोजमर्रा की चीजों को कम मूल्य पर बेचा जाना चाहिए वही कुछ दुकानदार ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर में पड़ गए । देहात क्षेत्र के लोग जब खरीदारी करने आते हैं तो मुनाफाखोरी के कारण जरूरत की आधी चीज ही लेकर घर चले जाते हैं क्योंकि कस्बे के बड़े व्यापारियों ने माल को गोदामों में हैंग कर रखा है उसे आसमान के दामों में बिक्री कर रहे हैं मुनाफाखोरी की शिकायत उप जिलाधिकारी कुमार धर्मेंद्र के साथ क्षेत्राधिकारी राज कुमार मिश्रा को लोगों द्वारा लगातार मिल रही जिसको लेकर उप जिलाधिकारी और क्षेत्राधिकारी के निर्देशन में कोतवाल सुरेंद्र सिंह पचौरी कस्बा इंचार्ज राजकुमार,एसएसआई जीटी सिंह की टीम ने कस्बे के मेन रोड साहूकारा सराफा बाजार बीसलपुर रोड स्टेशन रोड सहित तमाम मोहल्लों में छापेमारी की तो देखा व्यापारी दुकानों के आधे शटर खोलकर धड़ल्ले से बिक्री कर रहे थे ।

पुलिस ने व्यापारियों को लॉकडाउन कर्फ्यू का जमकर पाठ पढ़ाया शासन की गाइडलाइन के तहत दुकानों को खोलने का निर्देश दिया अन्यथा पुलिस अपने रवैया से लॉकडाउन कर्फ्यू का पालन कराएगी जिसमें जबरदस्त शक्ति भी दिखाएगी पुलिस को देख मुनाफाखोर व्यापारियों के साथ गाइडलाइन के खिलाफ अवैध रूप से कपड़ा और बिजली व्यापारी आधे शटर खोलकर सामान बिक्री कर रहे थे शटर बंद कर भागे । पुलिस की कार्रवाई की खबर कस्बे के व्यापारियों में आग की तरह फैल गई देखते ही देखते समूचे कस्बे के व्यापारियों की दुकानों के शटर धड़ाम हो गए सड़कों पर सन्नाटा पसर गया । मुनाफाखोरी और लॉकडाउन कर्फ्यू के उल्लंघन के खिलाफ नगर वासियों और समाजसेवियों ने पुलिस कार्रवाई की सराहना की और फरीदपुर पुलिस प्रशासन से अपील की मुनाफाखोर व्यापारियों पर शिकंजा कायम रखें जिससे महामारी के दौर में गरीबों का शोषण ना कर सकें! तथा वही पुलिस प्रशासन ने मेन रोड पर बेवजह सड़कों पर घूमते लोगों को पूछताछ की तथा मुंह पर मास्क लगाने को कहा एवं सभी जनता से उन्होंने एक ही अपील की भाइयों घर में बैठो जब आप को आवश्यक कार्य हो तभी बाहर निकले अन्यथा बेवजह बाहर ना घूमे ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!