चुर्क-घुर्मा नगर पंचायत में टेंडर खुलते ही विवादों में घिर गया पूरी प्रक्रिया, निरस्त की मांग

अंशु खत्री/दिलीप श्रीवास्तव (संवाददाता)

चुर्क । नगर पंचायत चुर्क घुर्मा में 13 मई को खोला गया टेंडर एक बार फिर विवादों में आ गया है । माँ मुंडेश्वरी कंट्रक्शन पार्टनर ने टेंडर को लेकर आरोप लगाया है कि नगर पंचायत के विभिन्न वार्डों में 11 काम को लेकर नो निविदा खोला गया उसमें बड़ी धांधली की गई है । ठेकेदार का आरोप है कि टेंडर प्रक्रिया को पूरी तरह से नहीं अपनाया गया और अपने मनचाहा ठेकेदार को टेंडर दे दिया गया । जबकि उनसे न तो फार्म कम्प्लीट कराया गया और न उसमे 3 फर्मो द्वारा फार्म निविदा में रखी शर्त जिसमे 90 दिन की वैधता नियम अनुसार नही लगी है और न ही स्टाम्प लगाया गया । माँ मुंडेश्वरी कंट्रक्शन पार्टनर शरद कुमार सिंह ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि टेंडर भी उस ठेकेदार को दे दिया गया जिसे साल भर पहले ब्लैक लिस्टेड करने का आदेश अपर जिलाधिकारी द्वारा दिया गया था।उन्होंने अधिशासी अधिकारी को लिखित सूचना देते हुये सम्बन्धित तीनो फर्मो की निविदा निरस्त करने की मांग की है ।

उधर नगर पंचायत चुर्क-घुर्मा के अधिशासी अधिकारी सुनील कुमार ने कहा कि इस प्रक्रिया को लेकर हम गंभीरता से जांच करेंगे।

बहरहाल चुर्क-घुरमा में टेंडर विवाद कोई नया नहीं है, इसके पहले भी टेंडर में अनिमितता को लेकर सभासद प्रदर्शन तक कर चुके हैं । ऐसे में एक बार फिर निविदा को लेकर उठ रहे सवाल पर क्या कहा जाय, क्या कोरोना काल में विभाग इसे अवसर में बदलना चाहता है ।

अब देखना हैंकि उच्चाधिकारी इसे कितना गंभीरता से लेते हैं ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!