भारत को इजरायल और हमास के बीच शत्रुता समाप्त कराने की दिशा में सक्रियता से काम करना चाहिए- आनंद शर्मा

कांग्रेस ने शुक्रवार को कहा कि भारत को इजरायल और हमास के बीच शत्रुता समाप्त कराने और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के हस्तक्षेप से शांति बहाल कराने की दिशा में सक्रियता से काम करना चाहिए । वरिष्ठ कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने यह भी कहा कि ईद के पवित्र त्योहर के अवसर पर भड़की हिंसा दुखद है और विश्व के लिए गंभीर चिंता का विषय है ।

उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस इजरायल और हमास के बीच शत्रुता के तत्काल खात्मे का आग्रह करती है और शांति बहाली के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के तत्काल हस्तक्षेप का आह्वान करती है । मुद्दा नैतिक और मानवीय-दोनों पहलुओं से जुड़ा है । यूएनएससी का सदस्य होने के नाते भारत को इस उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए सक्रियता से काम करना चाहिए ।’

शर्मा ने कहा कि फलस्तीन के लोगों को एक सुरक्षित माहौल में गरिमा के साथ जीवन जीने का अधिकार है। यह, समान रूप से इजरायल के सभी लोगों का भी अधिकार है । उन्होंने कहा कि अल अस्का मस्जिद में बिना किसी प्रतिबंध के इबादत करने के फलस्तीनी लोगों के अधिकार का हमेशा सम्मान किया जाना चाहिए और इसका उल्लंघन नहीं किया जाना चाहिए।

शर्मा ने एक बयान में कहा कि यरूशलम में हुईं योजनाबद्ध घटनाएं घृणित हैं और इनकी वजह से तनाव और हिंसा भड़की। कांग्रेस ने कहा कि संघर्ष के भड़कने, गाजा पर हवाई हमलों और हमास के जरिए किए गए रॉकेट हमलों से निर्दोष लोगों की जान गई है, खासकर बच्चों और बुजुर्गों की और अनेक आम नागरिक घायल भी हुए हैं । पार्टी ने कहा कि सार्वजनिक संपत्ति को हुए भारी नुकसान से कठिनाइयां और बाधाएं उत्पन्न हुई हैं ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!