बंगाल में नहीं थम रहा राजनीतिक टकराव, राज्यपाल ने हिंसा पीड़ित परिवारों से मिलने की घोषणा की, सीएम ने किया एतराज

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ के हिंसा पीड़ित लोगों से जिला और असम में जाकर मुलाकात करने की घोषणा पर राज्य की सीएम ममता बनर्जी ने आपत्ति जताई है और राज्यपाल पर सीएम और राज्य मंत्रिमंडल की अवहेलना करना का आरोप लगाया है । सीएम ने इस बाबत राज्यपाल को पत्र देकर इससे परहेज करने की अपील की है ।

बता दें कि राज्यपाल 13 मई को सीतलकुची और कूचबिहार के हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगे और 14 मई को असम के रनपगली और श्रीरामपुर कैंप में रह रहे बंगाल के लोगों से मुलाकात करेंगे । बता दें कि राज्यपाल ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी देते हुए कहा कि वह बीएसएफ के हेलीकॉप्टर से हिंसा प्रभावित इलाके का दौरा करेंगे। वह माथाभांगा और सिताई भी जाएंगे । वहां पीड़ितों से मुलाकात करेंगे ।

राज्यपाल को लिखे पत्र में सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि राज्यपाल के सचिव जिलों का दौरा राज्य सरकार के आदेश के बाद निश्चित करते हैं । राज्यपाल का दौरा जिला और राज्य सरकार के अधिकारियों के परामर्श से अंतिम रूप दिया जाता है । ममता बनर्जी ने कहा कि उन्हें सोशल मीडिया से जानकारी मिली है कि वह 13 मई को जिलों का दौरा कर रहे हैं और यह लंबी परंपरा का उल्लंघन है । वह आशा करती हैं कि राज्यपाल लंबे समय से चले आ रहे प्रोटोकॉल का पालन करेंगे ।

ममता बनर्जी ने अपने पूर्व पत्रों का उल्लेख करते हुए कहा कि वह सीएम और राज्य मंत्रिमंडल की अवहेलना कर सीधे अधिकारियों से बात करना बंद करें । आप नियमों की अवहेलना कर रहे हैं और सीधे अधिकारियों के साथ बात कर रहे हैं। उनसे रिपोर्ट तलब कर रहे हैं । वह आग्रह करती हैं कि कृपया इस तरह से बर्ताव से खुद को अलग रखें और वह इस संबंध में मुख्य सचिव को भी निर्देश दे रही हैं ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!