पुलिस ने फर्जी शिक्षक को गिरफ्तार कर भेजा जेल

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही(ब्यूरो)

गाजीपुर। फर्जी कागजात के आधार पर नौकरी करने वाले एक शिक्षक को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। करीमुद्दीनपुर थानांतर्गत पातेपुर गांव निवासी सर्वजीत यादव बलिया जिले के इंदरपुर गांव निवासी बब्बन यादव के नाम से फर्जी सर्टिफिकेट बनवाकर 1997 में आजमगढ़ जिले में प्राथमिक शिक्षक नियुक्त हो गया।चार वर्ष तक नौकरी करने के बाद ट्रांसफर कराकर गाजीपुर जिले में आ गया और मुहम्मदाबाद शिक्षा क्षेत्र के गड़ेशर गांव में बतौर शिक्षक नौकरी करने लगा।शासन की ओर से मानव संपदा के तहत अध्यापकों के कागजात आनलाइन लोड कराने के समय संज्ञान में आया कि बब्बन यादव के नाम का एक शिक्षक सिद्धार्थनगर जिले में भी कार्यरत है।
जांच कराने पर पता चला कि बलिया जिले के इंदरपुर गांव में बब्बन यादव नाम का कोई व्यक्ति है ही नहीं।नवंबर 2020 में बीएसए गाजीपुर ने फर्जी कागजात पर नौकरी करने वाले शिक्षक बब्बन यादव को बर्खास्त कर दिया और एबीएसए मुहम्मदाबाद को एफआईआर दर्ज करने का निर्देशन दिया।एबीएसए ने मार्च महीने में मामला दर्ज कराया। पुलिस ने तलाश शुरु की तो पता चला कि बब्बन यादव के नाम पर नौकरी करने वाला शिक्षक वास्तव में करीमुद्दीनपुर थानांतर्गत पातेपुर गांव का रहने वाला सर्वजीत यादव है।वह हाईस्कूल हार्टमनपुर इंटर कालेज से और इंटरमीडिएट जनता जनार्दन इंटर कालेज गांधीनगर से और एक वर्ष बीए की पढ़ाई की।बाद ही वह शिक्षक बन गया।सर्वजीत के फर्जी सर्टिफिकेट में जन्मतिथि 1959 है जबकि सही दस्तावेज में उसकी जन्मतिथि 1964 है। पुलिस ने उसके घर से गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!