गोली कांड का मुख्य आरोपी पूर्व प्रधान गिरफ्तार

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही(ब्यूरो)

गाजीपुर। सादात थाना क्षेत्र के गौरा गांव में पंचायत चुनाव के पूर्व हुए गोली कांड के मुख्य आरोपी पूर्व प्रधान को मंगलवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से कुर्क की कार के साथ ही एक पिस्टल और दो कारतूस बरामद किया। पुलिस ने उसका चालान करते हुए जेल भेज दिया। मालूम हो कि पंचायत चुनाव के एक दिन पूर्व 28 अप्रैल की रात अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित गौरा ग्राम सभा की सीट पर ग्राम प्रधान पद पर चुनाव लड़ रही महिला प्रत्याशी धनपति देवी के बेटे महावीर राम (28) को उस समय घात लगाए हमलावरों ने गोली मार दी गई थी, जब वह गांव में अपने समर्थकों के घर गया था। घटना को उपचार के लिए वाराणसी ले जाया गया था। घटना से आक्रोशित दलित जाति के सैकड़ों लोगों ने पूर्व प्रधान मनोज सिंह पर युवक को गोली मारने का आरोप लगाते हुए उनके मकान पर हमला बोल दिया था। घर में तोड़-फोड़ करने के साथ ही बाहर खड़ी कार, ट्रैक्टर व अन्य जरूरी सामानों को आग के हवाले कर दिया था। इस मामले में घायल महावीर के भाई सतवीर पुत्र नंदलाल ने तहरीर देकर पूर्व प्रधान मनोज सिंह व तीन अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कराया था। एसपी डा. ओमप्रकाश सिंह ने घटना की रात की मौका मुआयना करते हुए संबंधितों को शीघ्र आरोपियों की गिरफ्तारी का निर्देश दिया था। पुलिस फरार लोगों की तलाश में जुटी थी। इसी क्रम में मंगलवार को मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। सादात थाना प्रभारी निरीक्षक दिव्यप्रकाश सिंह ने बताया कि मुखबिर से सूचना पर लम्बे समय से फरार चल रहे मुख्य आरोपी गौरा गाव निवासी पूर्व प्रधान मनोज सिंह को आज करीब तीन बजे खिजिरगंज पुलिया के पास घेरंबंदी कर गिरफ्तार कर लिया गया। तलाशी लेने उसके पास से 32 बोर का एक पिस्टल और दो जिंदा कारतूस बरामद किया। जिस कार में वह सवार था, उसे भी कब्जे में ले लिया गया। डीएम के आदेशानुसार इस पहले ही इस कार को कुर्क करने की कार्रवाई की गई थी। कुर्की के बाद से ही कार को कहीं छिपाकर रखा था। इस पर लूट, हत्या, बलवा, हत्या के प्रसास, गुंडा एक्ट, गैंगेस्टर सहित कुल 29 आपराधिक मुकदमा दर्ज है। इस पर 15 हजार का इनाम भी घोषित है। अभियुक्त का संबंधित धाराओं में चालान कर जेल भेज दिया गया। गिरफ्तार करने वाली टीम में थानाध्यक्ष के साथ उपनिरीक्षक महेन्द्र कुमार यादव, उपनिरीक्षक जयप्रकाश सिंह, हेड कांस्टेबल रामराज तिवारी, कांस्टेबल अतुल सिंह, चालक कांस्टेबल जयंत सिंह, कांस्टेबल जिलाजीत वर्मा और महिला कांस्टेबल रोशनी शामिल रही।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!