सरकार ने फिर बढ़ाई मियाद, अब 17 मई तक सोनभद्र ‘लॉक’, जानें क्या रहेगा प्रतिबंधित

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

प्रदेश में कोरोना के कारण 17 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन

● 17 मई सुबह 7 बजे तक प्रतिबंध रहेंगे बरकरार, ईद पर भी पाबंदियां

● सूबे में 30 अप्रैल से ही कोरोना लॉकडाउन

सोनभद्र । वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के कहर पर अंकुश लगाने की खातिर प्रदेश में किस्तों में तीन बार आंशिक लॉकडाउन लगाया गया। जिसके कारण संक्रमण के डर में सुधार होने पर एक बार 17 मई की सुबह 7 बजे तक के लिए आंशिक लॉकडाउन बढ़ाने का एलान किया है। 14 मई को ईद का त्योहार भी है, ऐसे में सरकार ने यह फैसला किया है कि किसी तरह का खतरा ना लेते हुए प्रतिबंध को 17 मई तक बढ़ा दिया है।

उक्त आदेश के क्रम में अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह ने आंशिक लॉकडाउन को लेकर बिंदुवार दिशा-निर्देश जारी किया है। अपर जिलाधिकारी योगेंद्र बहादुर सिंह ने आदेश जारी करते हुए बताया कि “इस दौरान पूर्ण रूप से बंदी रहेगी लेकिन जरूरी चीजों की दुकानें व जरूरी सेवाएं जारी रहेंगी। उन्होंने बताया कि जनपद में रात्रिकालीन आवागमन एवं साप्ताहिक के रुप में पारित पूर्व आदशों के अनुसार ही गतिविधियों के संचालन की अनुमति होगी तथा निर्धारित शर्तों के किसी भी अंश का उल्लंघन पर आईपीसी की धारा-188, एपेडेमिक एक्ट तथा आपदा प्रबन्धन अधिनियम-2005 के लागू प्राविधानों के अधीन दण्डनीय अपराध होगा।”

उन्होंने जन सामान्य से अपील किया कि “अनावश्यक बाहर न निकलें तथा अति हो तो बाहर निकलने पर मास्क पहनकर ही निकलें साथ ही टीकाकरण का अभियान पूर्ववत् चलता रहेगा परन्तु सोशल डिस्टेन्सिंग व दो गज की दूरी व मास्क की अनिवार्यता टीकाकारण के समय अवश्य होगी।”

जानें क्या रहेगा प्रतिबंधित

1. उ0प्र0 राज्य सड़क परिवहन निगम के माध्यम से प्रदेश के बाहर कोई भी बस न भेजी जाये, जिससे कि संक्रमण पर प्रभावी कार्यवी की जा सके। बसों में सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करते हुए सैनेटाइजर, मास्क का प्रयोग अनिवार्य रुप से किया जायेगा।

2. आवश्यक दवा/सर्जिकल की दूकान खुली रहेंगी। उद्योग पूर्व आदेशों के अन्तर्गत खुले रहेंगे, केवल दैनिक उपयोग की दूकान जैसे- सब्जी/फल/दूध/किराना इत्यादि की दुकानों को छोड़कर शेष सभी दुकानें बन्द रहेंगी। सब्जी मण्डी/फल मण्डी में भी सोशल डिस्टेन्सिंग, मास्क/ग्लब्स व सैनेटाइजर प्रयोग की अनिवार्यता होगी।

3. 5 मई से गांवों में कोरोना के लक्षणयुक्त व्यक्त्यिों की पहचान एवं लाइन लिस्टिंग का कार्य किया जायेगा एवं कोविड की दवाई (मेडिकल किट) भी वितरित की जाएगी। इस विशेष अभियान के तहत सभी लक्षणयुक्त व्यक्तियों की पहचान के पश्चात उनकी टेस्टिंग की जायेगी।

4. पब्लिक एड्रेस सिस्टम का व्यापक प्रयोग करते हुए बचाव के प्रति जागरुकता के संदेश प्रसारित किये जायेगें।

5. हाई रिस्क कैटेगरी यथा- 60 वर्ष से ऊपर अथवा 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चे अथवा गर्भवती महिलाएँ एवं एक से अधिक बीमारी से ग्रसित अर्थात कम इम्युनिटी के लोग बाहर नहीं जायेंगे।

6. निगरानी समितियों के माध्यम से ग्राम पंचायतों में क्वारन्टाइन सेन्टर की स्थापना की जाये साथ ही जो व्यक्ति बाहर से आ रहे हैं, यदि होम क्वारन्टाईन की घर में जगह नहीं है तो क्वारन्टाईन सेन्टर में रखा जाये।

7. कन्टेनमेन्ट जोन में आवश्यक सेवाओं के अतिरिक्त अन्य सभी कार्य सख्ती से बाधित रखे जाएंगे।

8. प्रत्येक शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में फॉगिंग एवं सेनेटाइजेशन की कार्यवाही प्रतिदिन की जायेगी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!