विश्व रेडक्रॉस दिवस की पूर्व संध्या पर ऑनलाइन मोड में आयोजित किया गया कार्यक्रम

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

– आपात परिस्थितियों में रेड क्रॉस सोसाइटी लोगों की पहली उम्मीद

पीलीभीत । समाधान विकास समिति विपनेट क्लब के तत्वाधान विश्व रेडक्रास दिवस की पूर्व संध्या पर ऑनलाइन मोड में आयोजित कार्यक्रम में क्लब की अध्यक्षा उर्मिला देवी ने बताया कि दुनिया में जहां भी मौत का तांडव होता है वहां जिंदगी बचाने के लिए रेडक्रास के स्वयंसेवक पहुंच जाते हैं। उन्हें सलाम ।कुछ ऐसे योद्धा हैं जिन्हें बिना लड़े ही योद्धा का दर्जा प्राप्त हुआ है। सर हैनरी डुयूनेंट ऐसे ही योद्धा थे जिनके महान विचारों ने विश्व रेडक्रास सोसाइटी को जन्म दिया। उनके जन्मदिन 8 मई पर प्रतिवू विश्व रेडक्रास दिवस मनाते हैं । रेडक्रास विश्व में निस्वार्थ भाव से लोगों की सेवा कर रहा है । रेडक्रॉस के सात सिद्धांत है ।मानवता, निष्पक्षता, तटस्थता, स्वतंत्रता ,सार्वभौमिकता, स्वच्छता एवं एकता ।रेडक्रास दिवस को रेडक्रास एण्ड रेड क्रिसेंट दिवस भी कहते हैं। 2021 विश्व रेडक्रास दिवस की थीम चिकित्सकों, चिकित्सा कर्मियों ,पुलिसकर्मियों, सफाई कर्मियों व अन्य स्वयं सेवकों के कोरोना संक्रमण काल में महत्वपूर्ण योगदान के लिए प्रशंसा पर आधारित है।
इस अवसर पर क्लब द्वारा प्रतिभागियों के परिवार व उनके आस-पास तालियां बजबाकर कोरोना काल में योगदान देने वाले सभी स्वयंसेवक के प्रति आदर एवं सम्मान व्यक्त कर ,उनके योगदान की प्रशंसा की। लक्ष्मीकांत शर्मा ने बताया आज थैलेसीमिया दिवस की पूर्व संध्या है 1938 में थैलेसीमिया का प्रथम रोगी भारत में मिला।प्रतिवर्ष 10000 बच्चे थैलेसीमिया से ग्रसित जन्म लेते हैं ।2021 विश्व थैलेसीमिया दिवस की थीम है ।
थैलेसीमिया के लिए नए युग की शुरुआत नवीन चिकित्सा में विश्व के प्रयास रोगियों की पहुंच में और सस्ते हों, यह आनुवांशिक रोग है । रक्त में आरबीसी की संख्या में गिरावट होती है। जिससे शरीर में खून की तेजी से कमी आती है ।सांस लेने में तकलीफ ,थकान ,सिर दर्द आदि इसके लक्षण है। थैलेसीमिया रोगी को ताउम्र उपचार कराना होता है। इस अवसर पर रेड क्रॉस व थैलेसीमिया संबंधित जागरूकता प्रश्नोत्तरी का आयोजन किया गया ।जिसमें सौरभ, तनुश्री, सोनी ,रितिका, रेशम राठौर, आरोही सक्सेना, शिखा गंगवार, सिमरन सागर, प्रगति सिंह आदि ने उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। कार्यक्रम में संतोष कुमार ,अंकित कुमार सिंह, ममता गंगवार व शालिनी श्रीवास्तव का सहयोग रहा।
कार्यक्रम से बाल व किशोर पीढ़ी को अद्यतन रखने को क्लब के प्रयासों को गति मिली।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!