4.05 लाख परिवारों को मिलेगा दो माह निःशुल्क राशन

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

● द्वितीय चरण से मई व जून माह में मिलेगा निःशुल्क राशन

दो माह तक प्रति यूनिट 5 किग्रा निःशुल्क मिलेगा सरकारी राशन

● जिले के 4.05 लाख लाभार्थी होंगे लाभान्वित

● प्रथम चरण में 14 मई तक मिलेगा सरकारी राशन

सोनभद्र । कोरोना की दूसरी लहर के विकराल रूप लेने के बाद गरीबों के सामने एक बार फिर से रोजगार का संकट है। ऐसे में सरकार ने गरीबों के लिए एक बार फिर से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लागू की है। ऐसी स्थिति में गरीबों को फिर से मई एवं जून माह में निःशुल्क राशन देने की घोषणा की है। अब सभी कार्डधारकों को नियमित राशन के अलावा दो माह तक प्रति यूनिट 3 किलो गेहूं व 2 किलो चावल निःशुल्क दिया जाएगा। जिले में 4.05 लाख लाभार्थियों को इसका लाभ मिलेगा। इस बार प्रथम चरण में 14 मई तक ही राशन बंटेगा। इसके बाद प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत निःशुल्क राशन का वितरण दूसरे चक्र यानी 14 मई के बाद होगा।

कोरोना को देखते हुए जिला पूर्ति विभाग ने नई व्यवस्था की है। कोटेदार मुहल्लावार लोगों को बुलाएंगे और एक समय में सिर्फ पाँच लोगों को ही दुकान पर बुलाने की अनुमति दी गई है साथ ही साथ वितरण के समय प्रत्येक उचित दर दुकान पर सेनेटाइजर/साबुन/पानी रखा रहेगा और उपभोक्ता हाँथ धोने के उपरान्त ही ई-पॉस मशीन का प्रयोग करेंगे तथा सोशल डिस्टेन्सिंग बनाये रखने के लिए दो उपभोक्ताओं के मध्य कम से कम एक मीटर की दूरी रखनी होगी।

जिला पूर्ति अधिकारी डॉ0 राकेश कुमार तिवारी ने बताया कि “जिले में कुल 790 कोटेदार हैं, वहीं अंत्योदय कार्ड धारक 60558 और 3.40 लाख पात्र गृहस्थी कार्ड धारक हैं। योजना के तहत वितरण के प्रथम चक्र में अन्त्योदय कार्डधारकों को प्रतिकार्ड 35 किग्रा खाद्यान्न (20 किग्रा गेहूं व 15 किग्रा चावल) तथा पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को प्रति यूनिट 5 किग्रा खाद्यान्न (3 किग्रा गेहूं व 2 किग्रा चावल) वितरित किया जाएगा। गेहूं का मूल्य 2 रुपये प्रति किग्रा तथा चावल का मूल्य 3 रुपये प्रति किग्रा होगा। प्रथम चक्र में वितरण की अन्तिम तिथि 14 मई होगी, जिस दिन आधार प्रमाणीकरण के माध्यम से खाद्यान्न प्राप्त न कर सकने वाले उपभोक्ताओं हेतु मोबाइल ओटीपी वेरीफिकेशन के माध्यम से खाद्यान्न वितरण किया जा सकेगा। इसके अतिरिक्त माह मई एवं जून में निःशुल्क प्रति यूनिट 5 किग्रा खाद्यान्न (3 किग्रा गेहूं एवं 2 किग्रा चावल) का वितरण किया जाएगा। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के खाद्यान्न का वितरण प्रथम चक्र के खाद्यान्न का वितरण की समाप्ति के पश्चात निर्धारित तिथि से किया जायेगा। इसके साथ ही कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत ई-पॉस से वितरण के समय प्रत्येक उचित दर दुकान पर सेनेटाइजर/साबुन/पानी रखा जायेगा और हाँथ धोने के उपरान्त ही ई-पॉस मशीन का प्रयोग किया जायेगा तथा एक समय में 5 से अधिक उपभोक्ता न रहे और सोशल डिस्टेन्सिंग बनाये रखने के लिए दो उपभोक्ताओं के मध्य कम से कम एक मीटर की दूरी रखी जायेगी।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!