किसके सिर सजेगा प्रधानी का ताज, फैसला आज

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । गांव का प्रधान कौन बनेगा, यह फैसला आज हो जाएगा। मतगणना के लिए प्रशासन शनिवार को तैयारियों में जुटा रहा। जिले में 10 स्थानों पर वोटों की गिनती होगी। मतगणना के लिए 438 पार्टियां गठित की गई है। 47 आरक्षित पार्टियां हैं। जिले में 2171 मतगणना स्थल हैं और तकरीबन पांच मतदान स्थलों की मतगणना एक टेबल पर संपन्न कराई जाएगी। कोविड-19 महामारी के बचाव के मद्देनजर रखते हुए 9 से 10 घंटे में मतगणना खत्म कराने के इंतजाम किए गये हैं। सबसे पहले ग्राम पंचायत सदस्य के वोटों की गिनती होगी। उसके बाद ग्राम प्रधान के वोट गिने जाएंगे। इसके बाद बीडीसी सदस्य के मतों की गिनती की जाएगी जबकि जिला पंचायत सदस्य के प्रत्याशियों के वोटों की गिनती राजकीय पालटेक्निक कालेज लोढ़ी में की जाएगी। इस दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहेंगे।

जिले के 10 ब्लॉकों में 629 ग्राम प्रधान, 781 बीडीसी सदस्य और 31 जिला पंचायत सदस्य पद के लिए चुनाव हुआ है। जिसमें पांच ग्राम प्रधान प्रत्यशियों की आकस्मिक मौत हो जाने के कारण चुनाव रद्द कर दिया गया था। वहीं एक बीडीसी सदस्य निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। इसके चलते 624 ग्राम प्रधान, 780 बीडीसी सदस्य और 31 जिला पंचायत सदस्य पद तथा 7767 ग्राम पंचायत सदस्य पदों के लिए वोटों की गिनती होगी। बता दें ग्राम प्रधान पद के लिए 6465, जिला पंचायत सदस्य पद के लिए 722, क्षेत्र पंचायत सदस्य पद के लिए 5055 और ग्राम पंचायत सदस्य पदों के लिए 11599 प्रत्याशियों के भाग्य का आज फैसला होगा।

अभिकर्ता को दिखाएंगे मतपेटिका

राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देश के अनुसार, मतपेटिका खोलने के दौरान निर्वाचन अधिकारी या सहायक निर्वाचन अधिकारी मतपेटिका के चिन्ह को जांच करेगा। उसके बाद मतपत्रों को गणना मेज पर निकाला जाएगा। मतगणना अभिकर्ता को दिखाया जाएगा कि बैलेट बॉक्स खाली हो गए हैं। ग्राम पंचायत में एक से अधिक मतपेटिका प्रयुक्त होने पर एक जगह ही रखी जाएंगी। इसके साथ मतपत्रों का लेखापत्र दिया जाएगा। प्रथम मतगणना मेज पर प्रथम मतपेटी और दूसरे पर दूसरी मतपेटी खोली जाएगी।

50-50 मतों की गड्डी बनाएंगे

ग्राम पंचायत सदस्य और ग्राम प्रधान के पदों पर वोटों की गिनती 50-50 मतों की गड्डी बनाकर की बनाई जाएगी। अंतिम गड्डी 50 से कम हो सकती है। ऐसे में स्लिप पर संख्या अंकित करनी होगी। ग्राम प्रधान के पक्ष में डाले गए मतपत्रों की अलग अलग गड्डियों की गणना प्रत्याशी वार की जाएगी। मतगणना पार्टी द्वारा बीडीसी सदस्य और जिला पंचायत सदस्य के लिए प्रयुक्त मतपेटी को खोला जाएगा। मतपत्रों को उलट कर उनके पीछे अंकित सुभेदक सील में वार्डों के क्रमांक देखकर प्रत्याशीवार छंटनी की जाएगी। यहां भी 50-50 की गणना की जाएगी। यदि एक मतदेय स्थल पर एक से अधिक ग्राम पंचायत सदस्य वार्ड का निर्वाचन हुआ है तो ऐसे मतदेय स्थलों की मतपेटी में प्राप्त मतपत्रों को उलट कर उनके पीछे अंकित सुभेदक सील में वार्डों के क्रमांक देख कर छंटनी की जाएगी।

कोविड प्रोटोकॉल का होगा सख्ती से पालन

कोविड संक्रमण बचाव नियमों का पालन करने के लिए न्याय पंचायतवार टेबल निर्धारित करते हुए दो पालियों में मतगणना कर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। इतना ही नहीं प्रवेश द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग के बाद मास्क लगाकर प्रवेश मिलेगा। खांसी, बुखार या जुकाम के लक्षण वाले किसी भी व्यक्ति को मतगणना परिसर मेें प्रवेश नहीं दिया जाएगा। मतगणना के लिए कार्मिकों को ड्यूटी उसी दिन सुबह छह बजे ब्लॉक में दी जाएगी। काउंटिंग के समय निर्बाध विद्युत आपूर्ति होगी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!