कोरोना कहर को देखते हुए दिल्ली में लॉक डाउन एक सप्ताह बढ़ा

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लॉकडाउन को एक सप्ताह के लिए और बढ़ाने का फैसला लिया है । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन को एक हफ्ते के लिए और बढ़ा दिया है । सीएम ने पहले 3 मई सुबह 5 बजे तक दिल्ली में लॉकडाउन लगाया था । लेकिन संक्रमण में कोई कमी नहीं होने पर इसे एक हफ्ते के लिए और बढ़ा दिया गया है । सीएम केजरीवाल ने खुद ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है।

बता दें कि दिल्ली सरकार से पहले कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने एक वीडियो कॉन्फ्रेंस मीटिंग के जरिए दिल्ली के व्यापारी नेताओं से एक मीटिंग की थी । मीटिंग में 150 से अधिक प्रमुख व्यापारी संगठनों के नेताओं ने हिस्सा लिया था । इस मीटिंग में व्यापारियों ने सर्वसम्मति से लॉकडाउन को बढ़ाने का फैसला लिया था । व्यापारी संगठनों ने उम्मीद जताई थी कि केजरीवाल सरकार भी कोरोना संकट के बीच लॉकडाउन को आगे बढ़ा देगी ।

जानकारी के मुताबिक कैट की तरफ से दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और उपराजयपाल अनिल बैजल को एक पत्र लिखा गया है । उस पत्र में भी इसी बात पर चिंता जाहिर की गई है कि लॉकडाउन लगाने के बाद भी कोरोना की रफ्तार धीमी नहीं पड़ी है। इसी वजह से लॉकडाउन को आगे बढ़ाने की अपील हुई है।

दिल्ली में लॉकडाउन के दौरान औसत पॉजिटिविटी रेट 33 प्रतिशत रहा है । दिल्ली सरकार अस्पतालों में बेड्स बढ़ाने में लगी है, लेकिन ऑक्सीजन की समस्या अभी बनी हुई है । ऐसे हालात में फिलहाल लॉकडाउन खोलना संभव नहीं है । दिल्ली में कोरोनावायरस के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं ।

शुक्रवार शाम को जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में दिल्ली में कोविड-19 के 27,047 नए मामले दर्ज किए गए हैं । वहीं इस दौरान 375 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो गई. पिछले 24 घंटों में पॉजिटिविटी रेट करीब 33 फीसदी रहा । इसके साथ ही एक्टिव मामलों की संख्या 99 हजार 361 पहुंच गई है । दिल्ली में अब तक 11 लाख 49 हजार 333 कोरोना मरीज सामने आ चुके हैं ।

दिल्ली में बिगड़ते हालातों को देखते हुए दिल्ली के मटियामहल से विधायक शोएब इकबाल ने दिल्ली में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की थी । उन्होंने कोरोना के कारण दिल्ली में पैदा हुई मौजूदा परिस्थितियों को लेकर ये मांग की थी । इतना ही नहीं उन्होंने हाईकोर्ट से भी अपील की है कि दिल्ली में फैल रही अव्यवस्था को देखते हुए अब यहां राष्ट्रपति शासन लग जाना चाहिए ।म



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!